नई दिल्ली। कईं ऐतिहासिक मैचों के गवाह रहे दिल्ली के मशहूर फिरोज शाह कोटला मैदान को अब नई पहचान मिलने वाली है। दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन ने इस मैदान का नाम बदलकर दिवंगत वित्त मंत्री अरुण जेटली के नाम पर रखने का फैसला किया है।

दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) ने मंगलवार को यह बड़ी घोषणा की। अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए डीडीसीए ने लिखा है कि फिरोज शाह कोटला का नाम बदलकर अरुण जेटली स्टेडियम रखा जाएगा। यह बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष अरुण जेटली को सही श्रद्धांजलि होगी। श्री जेटली जिनका 24 अगस्त को निधन हो गया वो डीडीसीए के अध्यक्ष थे।

सिंधु ने रचा इतिहास, विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप जीतने वाली पहली भारतीय

इस कदम के बारे में बात करते हुए डीडीसीए के वर्तमान अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा कि यह सिर्फ अरुण जेटली का सहयोग और प्रेरणा थी कि विराट कोहली, विरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा और ऋषभ पंत जैसे कईं खिलाड़ी दिल्ली ने दिए।

उन्होंने कहा कि अपने कार्यकाल में जेटली ने स्टेडियम को नई पहचान दी और इसमें मॉडर्न फैसिलिटीज उपलब्ध करवाई हैं।

बता दें कि बहादूर शाह जफर मार्ग पर स्थित फिरोज शाह कोटला मैदान की स्थापना 1883 में की गई थी और ईडन गार्डन्स के बाद देश का दूसरा सबसे पुराना फंक्शनल स्टेडियम है। इस मैदान पर पहला टेस्ट मैच 10 नवंबर 1948 को खेला गया था। यह स्टेडियम तब से लेकर अब तक कईं रिकॉर्ड्स का गवाह रहा है फिर चाहे वो 1983-84 में गावस्कर द्वारा डॉन ब्रेडमैन के 29 शतकों के रिकॉर्ड की बराबरी ही क्यों ना हो।

@vicharodaya

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here