भोपाल विलीनीकरणके 69 साल होने पर जुमेराती पोस्ट ऑफिस में फहराया तिरंगा

विलीनीकरण के 69वी वर्षगांठ के मौके पर महापौर आलोक शर्मा व मंत्री विस्वास सारंग ने शहीद गेट पर सुबह 9बजे शहीदों को पुष्पांजलि दे कर उन्हें नमन किया। इसके बाद शहर के सबसे पुराने पोस्ट ऑफिस में तिरंगा फहराया गया बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे इस दौरान मिठाईया भी बांटी गई।

नगर निगम भोपाल इस बार विलीनीकरण की मौके पर तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है शुक्रवार शाम 7:00 बजे रविंद्र भवन में मुक्ताकाश मंच पर एक शाम विलीनीकरण सेनानियों के नाम का आयोजन किया जाएगा वैसे तो 15 अगस्त 1947 को देश आजाद हो गया था लेकिन 1 जून 1949 को भोपाल में आजादी का जश्न मना था।

शहीदों की याद दिलाती स्मृति पट्टिका

शहीद गेट पर स्मृति पट्टिका बनाई गई है जिसमें लिखा है भारत के स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त 1947 के 659 दिनों के बाद भोपाल को आजादी की भोर हासिल हुई है। 1 जून 1949 भोपाल की स्वतंत्रता के इतिहास कि वह अविस्मरणीय तारीख है जिसकी सुबह देखने के लिए देश भक्तों को भोपाल के तत्कालीन नवाबी शासन से लोहा लेना पड़ा विलीनीकरण आंदोलन में साहसिक और त्यागपूर्ण भूमिका के निर्वाह के लिए बलिदान देने वाली मातृशक्ति और पुरुषों को नमन है

कैलाश खेर की प्रस्तुति के साथ शहीदों को नमन

शाम 7:00 बजे रविंद्र भवन में कैलाश खेर की प्रस्तुति व साथ में सेनानियों के परिजनों का सम्मान

शनिवार शाम 7:00 बजे भारत भवन में नाटक भोर सुभोर भोपाल की का मंचन।

रविवार की शाम 7:00 बजे उदयपुरा के समीप बोरास में शहीदों की याद में राष्ट्रभक्ति गीतों का आयोजन

बच्चा बच्चा आजादी के सच को जाने,,,

सेनानियों को पुष्पांजलि कर महापौर आलोक शर्मा ने बताया कि मैं पुराने भोपाल में पैदा हुआ हूं और स्वतंत्रता सेनानी के गोदी में खेल कर बड़ा हुआ हूं मेरी इच्छा है कि बच्चा बच्चा आजादी के इस दिन को जाने दरसल 1 जून भोपाल की आजादी का दिन है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply