Zodiac Sign: क्या होती है राशि ज्योतिष शास्त्र में राशियों का बड़ा महत्व होता है. व्यक्ति के जन्म से लेकर उसकी पढ़ाई, शादी , मृत्यु आदि तक में राशियां महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं. राशि, ग्रह और नक्षत्र के हिसाब से व्यक्ति के व्यवहार, गुण दोष का निर्धारण होता है. राशि शब्द संस्कृत भाषा से लिया गया है, जिसका अर्थ होता है समूह. पंडित इंद्रमणि् घनस्याल बताते हैं कि ब्रह्मांड में पृथ्वी जब सूर्य की परिक्रमा करती है तो उस संपूर्ण मार्ग को 12 काल्पनिक भागों में बांटा गया है. ब्रह्मांड में हमें असंख्य तारे चमकते हुए दिखाई देते हैं. इन्हीं तारों के समूहों को 27 नक्षत्रों में बांटा गया है. नक्षत्रों को 12 भागों में विभाजित किया गया है, जिन्हें राशि कहा जाता हैं. ज्योतिष शास्त्र में प्रत्येक राशि के स्वामी ग्रह होते हैं. सूर्य और चंद्रमा दोनों एक-एक राशि के ग्रह माने जाते हैं, लेकिन गुरु, शुक्र, शनि, मंगल, बुध को दो-दो राशियों का अधिपत्य प्राप्त हैं.

क्या होती है राशि और 12 राशियां और नाम

1. मेष राशि: मेष राशि वाले व्यक्तियों के नाम के अक्षर की शुरुआत चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ अक्षर से होती है.

2. वृष राशि: इनके नाम के अक्षर की शुरुआत ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो अक्षरों से होती है.

3. मिथुन राशि: इनके नाम के अक्षर की शुरुआत का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह जैसे अक्षरों से होती है.

4. कर्क राशि: इनके नाम के अक्षर की शुरुआत ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो अक्षरों से होती है.

5.सिंह राशि: इस राशि के नाम के अक्षर की शुरुआत मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे जैसे अक्षरों से होती है.

6. कन्या राशि: इस राशि के नाम के अक्षर की शुरूआत ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो अक्षरों से होती है.

7. तुला राशि: इस राशि के नाम अक्षरों की शुरुआत रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते अक्षरों से होती है.

8. वृश्चिक राशि: इस राशि के नाम अक्षरों की शुरुआत तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू अक्षरों से होती है.

9. धनु राशि: इस राशि के नाम अक्षरों की शुरुआत ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे अक्षरों से होती है.

यह भी पढ़ें: Surya Grahan 2022: इन 4 राशि के जातकों पर पड़ सकता है सूर्य ग्रहण का बुरा असर, चेक करें लिस्ट 

10. मकर राशि: इस राशि के नाम अक्षरों की शुरुआत भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी अक्षरों से होती है.

11. कुंभ राशि: इस राशि के नाम अक्षरों की शुरुआत गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा जैसे अक्षरों से होती है.

12.मीन राशि: इस राशि के नाम अक्षरों की शुरुआत दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची अक्षरों से होती है.

जातक का नामकरण
जब किसी बच्चे का जन्म होता है, तो उसका नामकरण राशियों के हिसाब से किया जाता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, किसी बच्चे के जन्म के समय चंद्रमा जिस राशि में होता है, वही जातक की राशि कहलाती है. जिसे जन्म राशि कहा जाता है.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जन्म कुंडली में राशियों को अंक के हिसाब से लिखा जाता है. जिस राशि में चंद्रमा स्थित होगा, वही जातक की राशि होती है, जिसके आधार पर जन्म कुंडली की निर्माण होता है और व्यक्ति के हाव भाव का लेखा-जोखा होता है.

Source link

विचारोदय न्यूज़ को डाउनलोड करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here