छत्तीसगढ़ के दुर्ग शहर में छेड़छाड़ से परेशान 10वीं की छात्रा ने खुदकुशी कर ली. आत्महत्या के लिए 16 साल की छात्रा ने खुद पर केरोसिन डाल कर आग लगा ली. इस घटना में वह बुरी तरह झुलस गए. उसे उपचार के लिए भिलाई के सेक्टर-9 अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान देर रात उसकी मौत हो गई.

Advertisement

 

हरिद्वार: 48 घंटे में मिले 1000 कोरोना पॉजिटिव, दो हफ्ते पहले खत्म हो सकता है कुंभ मेला

10 अप्रैल की दोपहर करीब साढ़े बारह बजे छात्रा ट्यूशन से लौट रही थी. इसी दौरान हरि नगर इलाके में आरोपी शशिकांत ने उसे रोका और छेड़छाड़ शुरू कर दी. फिर जबरन छात्रा की सेल्फी ली और बात करने का दबाव बनाने लगा.

पत्रकार भी फ्रंटलाइन वर्कर, प्राथमिकता पर मिले कोरोना वैक्सीन- मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

छात्रा ने बातचीत करने से मना किया तो शशिकांत ने सेल्फी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी. इसके बाद लड़की रोते हुए घर पहुंची और घटना की जानकारी परिजनों को दी. घरवालों ने कहा कि हम उसके माता-पिता से उसकी शिकायत करेंगे. परिजन का कहना है कि इसके बाद से उनकी बेटी सदमे में थी. उन्हें पता नहीं था कि वो ऐसा कदम उठा लेगी.

UP के CM योगी आदित्यनाथ को हुआ कोरोना, वैक्सीन की पहली डोज लेने के 9 दिन बाद हुआ संक्रमण

मृतका के पिता ने बताया कि लॉकडाउन के कारण 11 अप्रैल की सुबह पत्नी घर से राशन लेने चली गई थी. मैं दोस्त की कार लेकर काम से रायपुर चला गया था. घर पर भांजा पढ़ाई कर रहा था. अकेला पाकर बेटी ने खुद को आग के हवाले कर दिया. सूचना मिलने पर पत्नी घर पहुंची और मुझे भी जानकारी दी. बेटी को इलाज के लिए भिलाई सेक्टर 9 अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

सरकारी अस्पताल से कोरोना वैक्सीन के 320 डोज चोरी, देश में इस तरह का पहला मामला

मृतक छात्रा के पिता की शिकायत पर मोहन नगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 341, 354 और पॉक्सो के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है. प्राथमिक पूछताछ में पता चला है कि आरोपी पिछले 5 महीने से नाबालिग को परेशान कर रहा था. कई बार नाबालिग के परिजन ने आरोपी को समझाया भी था.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply