एक तरफ देश ऑक्सीजन की कमी और बिस्तरों की किल्लत से जूझ रहा है दूसरी तरफ कुछ लोग इस समय भी अपराध करने से बाज नहीं आ रहे हैं. ओडिशा से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां अस्पताल में कोविड-19 संक्रमित महिला पर बदनीयती के इरादे से हमला किया गया.

Advertisement

कोरोना संक्रमण रोकने अब होगी BSC नर्सिंग/GNM की छात्राओं भर्ती, 20 हजार तक मिलेगा वेतन

मामला ओडिशा के नुआपाड़ा जिले का है जहां नुआपाड़ा जिला अस्पताल में भर्ती एक महिला मरीज को एक युवक ने गलत इरादे से छुआ, महिला ने मामले को भांपते ही तुरंत चिल्लाना शुरू कर दिया. पीड़ित महिला 26 अप्रैल के दिन ही अस्पताल में भर्ती हुई थी, उससे तीन दिन पहले इसी अस्पताल में आरोपी युवक भी कोरोना के इलाज के लिए भर्ती हुआ.

कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर ने की आत्‍महत्‍या, जांच में जुटी पुलिस

महिला ने चिल्लाकर दूसरे मरीजों को बुला लियाआरोपी भी कोरोना मरीज है, उसी अस्पताल में भर्ती थाआरोपी को पुलिस ने दूसरे अस्पताल में भिजवा दियाकोरोना नेगेटिव होने के बाद होगी कार्रवाई

फ्रंट लाइन वर्कर पुलिसकर्मी पर चढ़ा दी गाड़ी, 40 मीटर तक घसीटता रहा, मौत

जिस शख्स पर आरोप है वो खुद भी कोविड-19 पॉजिटिव है और अस्पताल में इलाज करा रहा था. ये घटना नुआपड़ा जिले शिलडा में स्थित कोविड अस्पताल में हुई. नुआपड़ा सदर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज का गया है.

भोपाल की सांसद के बंगले पर कोरोना ने दस्तक दी

रिपोर्ट्स के मुताबिक महिला को कोविड अस्पताल में 26 अप्रैल को दोपहर को भर्ती कराया गया. आरोपी शख्स इससे तीन दिन पहले ही इलाज के लिए इस अस्पताल में भर्ती हुआ था. बताया जा रहा है कि आरोपी ने महिला को गलत तरीके से छूने की कोशिश की. महिला के शोर मचाने पर कुछ मरीज वहां पहुंच गए.

भोपाल में किराना सामान की होम डिलीवरी:प्रशासन ने 54 व्यापरियों को दी अनुमति

नुआपड़ा पुलिस स्टेशन इंस्पेक्टर संजुक्ता बारले ने बदनीयती के इरादे से महिला पर हमला किए जाने की घटना की पुष्टि की. महिला की ओर से शिकायत किए जाने के बाद आरोपी पर आईपीसी की धारा u/s-354 और 354 (A), 269 और 270 के तहत केस दर्ज किया गया.

भोपाल: 45+ के लोग कार में बैठ-बैठे ही लगवा सकेंगे वैक्सीन; बुक करने पर नगर निगम पिक एंड ड्रॉप की देगा सुविधा

बारला ने कहा, “आरोपी के खिलाफ कार्रवाई तभी की जाएगी जब उसका रिजल्ट निगेटिव आ जाएगा. हालांकि हम उस पर पूरी नजर रख रहे हैं. उसे पॉलीटेक्निक में स्थित कोविड अस्पताल में शिफ्ट किया गया है.”इस बीच, एक महिला तहसीलदार ने पीड़ित के पास जाकर उसका बयान दर्ज किया. पीड़ित ने इसमें कहा, मुझे आरोपी ने गलत इरादे से छुआ, मुझे उसकी नीयत खराब लगी. मैंने तत्काल शोर मचाकर दूसरे मरीजों को बुला लिया.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply