वाइफ स्वैपिंग रैकेट
वाइफ स्वैपिंग रैकेट

महिलाओं से किया जाता था अननैचुरल सेक्स 7 आरोपी अरेस्ट,गिरोह में 1000 कपल्स जुड़े होने कि आशंका 
Advertisement

एक वाइफ स्वैपिंग रैकेट का पर्दाफाश हुआ है केरल के कोट्‌टायम में जहाँ  रैकेट चलाने वाले 7 लोगों को रविवार को पुलिस ने हिरासत में लिया गया। आपकों बतां दें एक सदस्य की पत्नी की तरफ से पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बाद मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने बताया कि 7 लोग गिरफ्तार किए गए हैं और 25 लोगों पर नजर रखी जा रही है। अगले कुछ दिनों में और लोगों की गिरफ्तारी होगी।

महिला ने करुकचल पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है कि उसके पति ने ने उसे दूसरे पुरुषों के साथ संबंध बनाने के लिए मजबूर किया। महिला ने बताया कि उसके साथ अननैचुरल सेक्स किया गया। आरोपी पति को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस को बड़े नेटवर्क के सुराग मिले। पुलिस ने बताया है कि रैकेट से करीब 1000 कपल्स जुड़े थे।

बुल्ली बाई एप और सुल्ली डील्स से मुस्लिम महिलाएँ क्यों है खौफ़ में..?, जानिए इन महिलाओं कि आपबिती…

सोशल मीडिया के जरिए ऑपरेट करता था गिरोह
गिरफ्तार किए गए लोग कोट्‌टायम, पथनमथिट्‌टा और अलापुझा जिले के हैं। कराकुचल पुलिस ने बताया कि यह रैकेट फेसबुक और टेलीग्राम जैसे कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑपरेट करता था।
अधिकारियों ने बताया कि रैकेट के सदस्यों में कई हाई-प्रोफाइल लोग भी शामिल हैं।

रैकेट में शामिल कपल्स जब भी मिलते थे, अपनी पत्नियों को एक्सचेंज करते थे। कई बार एक महिला को एक ही समय पर तीन पुरुष शेयर करते थे। कई सिंगल लड़के दूसरे पुरुषों के पार्टनर शेयर करने के लिए पैसे भी देते थे।

आज से लगेगा कोरोना का तीसरा टीका दोनों डोज ले चुके बुजुर्गों को आज से प्रीकॉशन डोज,फ्रंटलाइन और हेल्थकेयर वर्कर्स भी दायरे में

कपल स्वैपिंग ग्रुप्स में एक्सचेंज की जाती थीं पत्नियां
एक अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया के जरिए एक-जैसे लोगों को चुना जाता था और प्राइवेट ‘कपल स्वैपिंग’ ग्रुप्स में पत्नियां एक्सचेंज की जाती थीं। इस रैकेट से कई लोग फेसबुक से जुड़े थे। रैकेट फेक सोशल मीडिया अकाउंट का इस्तेमाल करता था, इसलिए इससे जुड़े सभी लोगों को पकड़ पाने में समय लगेगा।

पुलिस ने कहा कि इस मामले की गहरी जांच की जा रही है। मामले से जुड़े लोगों की सारी जानकारी निकाली जा रही है और यह पता लगाया जा रहा है कि क्या इस ग्रुप के लोग किसी और ग्रुप के साथ भी रिलेशनशिप में हैं।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रोजगार की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply