पुलवामा में हुए आतंकी हमले के मद्देनजर भारत सरकार ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को पाकिस्‍तान के खिलाफ वर्ल्‍डकप-2019 का मैच नहीं खेलने के निर्देश दिए हैं. सूत्रों ने NDTV को बताया है कि सरकार ने बीसीसीआई से कहा है कि भारतीय टीम को वर्ल्‍डकप-2019 के अंतर्गत पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच नहीं खेलना चाहिए. भारत और पाकिस्‍तान के बीच वर्ल्‍डकप-2019 का यह मैच 16 जून को खेला जाना था.

Advertisement

सरकार का बीसीसीआई से संबद्ध कमेटी ऑफ एडमिनिस्‍ट्रेटर्स (COA) को संदेश है, ‘पाकिस्‍तान के खिलाफ मत खेलिए.’ केंद्र सरकार के इस फैसले को पाकिस्‍तान के खिलाफ दबाव बनाने के लिहाज से बड़ा कदम माना जा रहा है. वैसे, भारत के इस राउंड रॉबिन मैच का बहिष्‍कार करने की स्थिति में आईसीसी और विज्ञापन कंपनियों को काफी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ेगा. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरकार चाहती हैं कि दोनों टीमों (भारत और पाकिस्‍तान) के नॉकआउट दौर में पहुंचने की स्थिति में भी भारत को पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच नहीं खेलना चाहिए. यही नहीं, आईसीसी से वर्ल्‍डकप-2019 के फॉर्मेट में बदलाव के लिए के कहने के विकल्‍प पर भी विचार किया जा रहा है ताकि नॉकआउट राउंड से पहले भारत-पाकिस्‍तान के बीच मुकाबले की स्थिति पैदा नहीं हो.

भारत को पाकिस्तान के खिलाफ 16 जून को वर्ल्‍डकप का राउंड रॉबिन मैच खेलना है. भारत के पाकिस्‍तान के खिलाफ इस मैच का बहिष्‍कार करने की स्थिति में पाकिस्‍तान को मैच में विजयी घोषित कर दिया जाएगा. पाकिस्‍तानी टीम को मैच में जीता हुआ मानकर दो अंक अवार्ड कर दिए जाएंगे. गौरतलब है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए हैं. पाकिस्‍तान स्थित आतंकी संगठन जैशे मोहम्‍मद ने पुलवामा हमले की जिम्‍मेदारी ली है. भारत में आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने से पाकिस्‍तान बाज नहीं आ रहा था. ऐसे में सौरव गांगुली और हरभजन सिंह जैसे शीर्ष भारतीय क्रिकेटरों ने पाकिस्तान के खिलाफ राउंड रॉबिन मुकाबले के बहिष्कार की मांग की थी. गांगुली ने कहा था, ‘यह 10 टीमों का वर्ल्‍डकप है और हर टीम, दूसरी टीम के साथ खेलेगी. मुझे लगता है कि अगर भारत वर्ल्‍डकप में एक मैच नहीं खेलता है तो यह कोई बहुत ज्‍यादा असर नहीं डालेगा.’

YouTube player

यही नहीं, गांगुली ने कहा कहा था कि भारत को पाकिस्‍तान के साथ केवल क्रिकेट ही नहीं, सभी खेलों के रिश्‍ते खत्‍म कर लेने चाहिए. ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने भी कहा था कि भारत अगर पाकिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले मैच को गंवा भी देता है, तो भी वह इतना मजबूत है कि भारत वर्ल्ड कप जीत सकता है. हालांकि बहिष्‍कार के मामले में सुनील गावस्‍कर की राय गांगुली और हरभजन से अलग थी.गावस्कर ने कहा था, ‘भारत अगर वर्ल्‍डकप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलने का फैसला करता है तो कौन जीतेगा? और मैं सेमीफाइनल और फाइनल की बात ही नहीं कर रहा. कौन जीतेगा? पाकिस्तान जीतेगा क्योंकि उसे दो अंक मिलेंगे.’उन्होंने कहा, ‘‘भारत ने अब तक वर्ल्‍डकप में हर बार पाकिस्तान को हराया है

इसलिए हम असल में दो अंक गंवा रहे हैं जबकि पाकिस्तान को हराकर हम सुनिश्चित कर सकते हैं कि वे वर्ल्‍डकप में आगे नहीं बढ़ पाएं.’ हालांकि गावस्‍कर ने इसके साथ में यह भी कहा था कि ‘मैं देश के साथ हूं, सरकार जो भी फैसला करेगी, मैं पूरी तरह से इसके साथ हूं. अगर देश चाहता है कि हमें पाकिस्तान से नहीं खेलना चाहिए तो मैं उनके साथ हूं.’

YouTube player

@vicharodaya

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply