उज्जैन में कोरोना वायरस से हालात गंभीर, शिवराज सरकार ने कलेक्टर को हटाया

मध्य प्रदेश सरकार ने उज्जैन में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों और मौतों पर सख्त रुख अपनाया है. राज्य सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर एक्शन लेते हुए उज्जैन के कलेक्टर शशांक मिश्रा को हटा दिया है.

शशांक मिश्रा को उज्जैन से हटाकर मंत्रालय में अपर सचिव बनाया गया है. अब इंदौर नगर निगम के कमिश्नर आशीष सिंह को उज्जैन का नया कलेक्टर नियुक्त किया गया है.

पेट्रोल-डीजल की कीमतें 50 दिनों बाद एक बार फिर बढ़ी..

असल में, मध्‍य प्रदेश में रेड जोन में आने वाले नौ जिलों में उज्‍जैन भी है. उज्‍जैन के हालात पर जिला प्रशासन की कमजोर होती पकड़ के मद्देनजर राज्य सरकार ने कड़ा फैसला लिया है. उज्‍जैन के कलेक्‍टर शशांक मिश्रा का तबादला मंत्रालय में कर दिया गया है. जबकि, इंदौर नगर निगम के आयुक्त आशीष सिंह को उज्जैन का नया कलेक्टर बनाया गया है.

बता दें कि उज्जैन में अब तक 166 कोरोना पॉजिटिव सामने आ चुके हैं जिनमें से 35 की मौत हो चुकी है. रविवार को ही उज्जैन में भाजपा पार्षद मुजफ्फर हुसैन की भी कोरोना से मौत हो गई थी.

विदेश में फंसे भारतीयों को लाने के लिए नौसेना ने लॉन्च किया ऑपरेशन ‘समुद्र सेतु..

इस बीच, कोरोना वायरस की रफ्तार थम नहीं रही है. इस जानलेवा वायरस को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन को 17 मई तक विस्तारित कर दिया गया है. वहीं इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने कहा है कि कोरोना वायरस के अब तक 11 लाख से ज्यादा सैंपल की जांच की गई है.

जारी बयान में देश की शीर्ष चिकित्सा अनुसंधान संस्था ने सोमवार को कहा था, “4 मई सुबह 9 बजे तक कुल 1,107,233 सैंपल की जांच की गई है.”

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply