उत्तराखंड के हल्द्वानी शहर में मेडिकल कॉलेज के बाहर बैंड बाजे के साथ एक शख्स द्वारा PPE किट में डांस करने का वीडियो जमकर वारयल हो रहा है. पीपीई किट में डांस करने वाला शख्स एंबुलेंस ड्राईवर है. बताया जा रहा है कि जब बारात अस्पताल के बाहर गुजर रही थी. तो बैंड बाजे की आवाज सुनते ही एंबुलेंस ड्राईवर ने वहां जाकर डांस करना शुरू कर दिया. शुरुआत में तो लोग बारातियों के बीच PPE किट पहने शख्स को देखकर सकुचाए लेकिन कुछ ही देर में जानकारी मिलने के बाद लोगों ने एंबुलेंस ड्राईवर को डांस करने दिया. इस डांस का वीडियो वहां एक मेडिकल दुकानदार ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया.

Advertisement

दोनों किडनी ख़राब लंग्स में पानी और 10 दिन वेंटिलेटर पर रहने के बाद भी नहीं मानी हार, कहा मन में है विश्वास,

बताया जा रहा है कि एंबुलेंस ड्राईवर का नाम महेश हैं और वह पिछले कई दिनों से कोविड संक्रमित शवों को घाट पहुंचाने का काम कर रहा है. जब मेडिकल कॉलेज के बाहर बारात निकली तो ड्राईवर अपना तनाव दूर करने के लिए बैंड बाजे के बीच पहुंच गया और डांस करने लगा. हालांकि सोशल मीडिया पर ड्राईवर के नाचने पर अलग अलग तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही है, कुछ लोग इसे तनाव दूर करने का जरिया बता रहे हैं तो वहीं कुछ लोग इसे संवेदनहीनता भी करार दे रहे हैं.

दोनों किडनी ख़राब लंग्स में पानी और 10 दिन वेंटिलेटर पर रहने के बाद भी नहीं मानी हार, कहा मन में है विश्वास,

इस कठिन समय में चारों तरफ से चीख-पुकारों और रोने-बिलखने की आवाजें सुनाई दे रही हैं, स्वास्थ्यकर्मियों पर भी इसका विपरित असर देखने को मिल रहा है. कई घंटों तक काम करने के बाद लोग तनाव दूर के अलग-अलग तरीके ढूंढ रहे हैं. ड्राईवर का यह तरीका इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply