भारत जोड़ों न्याय यात्रा से पहले इस नेता ने छोड़ कांग्रेस का साथ लगा बड़ा झटका.!

भारत जोड़ों न्याय यात्रा से पहले इस नेता ने छोड़ कांग्रेस का साथ लगा बड़ा झटका.!

Share this News

भारत जोड़ों न्याय यात्रा शुरू होने से पहले राहुल गांधी को लगा बड़ा झटका,इस नेता ने छोड़ कांग्रेस का साथ

राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा और लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस पार्टी को महाराष्ट्र में बड़ा झटका लगा है आपको बता दें पार्टी के पूर्व सांसद व युवा नेता मिलिंद देवड़ा ने अपनी प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है
आपको बता दे मिलिंद देवड़ा के पिता मुरली देवड़ा भी कांग्रेस के बड़े नेता रह चुके हैं और मिलिंद देवड़ा दक्षिण मुंबई से लोकसभा के सदस्य रहे हैं हालांकि पिछले दो चुनावों से उन्हें भाजपा शिवसेना के गठबंधन के उम्मीदवार अरविंद सावंत से हार का सामना करना पड़ा था

भारत जोड़ों न्याय यात्रा से पहले झटका
मिलिंद देवड़ा ने यह फैसला उस दिन लिया, जब राहुल गांधी मणिपुर से भारत जोड़ों न्याय यात्रा शुरू करने जा रहे हैं। अब महाराष्ट्र और खासतौर पर मुंबई में कांग्रेस की परेशानी बढ़ने वाली है।

मिलिंद देवड़ा ने क्यों छोड़ी कांग्रेस
मिलिंद देवड़ा से इस बड़े फैसले के पीछे उद्धव ठाकरे का जिम्मेदार माना जा रहा है। दरअसल, इंडिया गठबंधन में सीटों के बंटवारे के दौरान उद्धव ने कहा है कि दक्षिण मुंबई सीट वे अपने पास रखा चाहते हैं, क्योंकि वहां से अभी उद्धव गुट के अरविंद सावंत सांसद है।

https://x.com/milinddeora/status/1746368092736037291?s=20

ऐसे में मिलिंद देवड़ा को आशंका है कि कांग्रेस उनका पत्ता काट सकती है। अब कहा जा रहा है कि वे शिवसेना के एकनाथ शिंदे गुट में शामिल हो सकते हैं।

अयोध्या जाने वाले यात्रियों के लिए चलेगी फ्री ट्रेन,यह सरकार करवायेगी राम मंदिर दर्शन..

मिलिंद देवड़ा के कांग्रेस छोड़ने पर कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि मिलिंद के पिता मुरली देवड़ा मेरे बहुत अच्छे दोस्त थे। उन्होंने कभी विचारधारा से समझौता नहीं दिया।

भारत जोड़ों न्याय यात्रा पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। मिलिंद देवड़ा कौन हैं, ये सब मोदी की कठपुतलियां हैं।

हमें व्हाट्सएप पर फॉलो करें

Advertisement
Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..