अनुच्छेद-370 हटाने के खिलाफ दायर याचिकाओं पर दशहरे बाद सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

अनुच्छेद-370 हटाने के खिलाफ दायर याचिकाओं पर दशहरे बाद सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

Share this News

अनुच्छेद-370 हटाने के खिलाफ याचिकाओं पर इससे पहले सुनवाई करीब ढाई साल पहले हुई थी,जिसके बाद से मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है।

जम्मू कश्मीर के अनुच्छेद-370 हटाने के खिलाफ दायर मामले में दशहरे के बाद सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि वह केंद्र द्वारा अनुच्छेद-370 हटाने के खिलाफ दायर याचिकाओं को सुनवाई के लिए दशहरे के बाद सूचीबद्ध करेगा।

बता दें कि केंद्र ने इस अनुच्छेद को जम्मू कश्मीर से विशेष अधिकार लेने के क्रम में हटाया है जिसे चुनौती दी गई है एक वकील ने चीफ जस्टिस यूयू ललित की अगुवाई वाली बेंच के समक्ष कहा कि याचिकाओं पर गर्मी की छुट्टी के बाद सुनवाई होने का अनुमान था।लेकिन यह सूचीबद्ध नहीं किया गया पूर्व चीफ जस्टिस एनवी रमना की अगुवाई वाली एक बेंच ने इसी साल अप्रैल में कहा था,कि ग्रीष्म अवकाश के बाद सुनवाई के लिए याचिकाओं को सूचीबद्ध किया जाएगा।

उज्जवला योजना का टारगेट पूरा नहीं होने पर,शिवराज ने किया डिंडोरी खाद्य अधिकारी को सस्पेंड

अब जस्टिस रमना और जस्टिस आर सुभाष रेड्डी के रिटायर होने के बाद पांच जजों वाली एक बेंच को फिर से गठित किया जाएगा। जो इन याचिकाओं पर सुनवाई करेगी जम्मू कश्मीर से जुड़े संविधान के अनुच्छेद-370 को खत्म किए जाने के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई करीब ढाई साल पहले की गई थी। फिलहाल यह मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है।

बता दें कि साल 2019 के अगस्त में केंद्र ने अनुच्छेद-370 और धारा 35-ए को समाप्त करने का ऐलान किया था। इसके हटते ही जम्मू कश्मीर को मिलने वाला विशेष दर्जा खत्म हो गया। केंद्र के इसी आदेश को चुनौती देते हुए कोर्ट मै अनेकों याचिकाएं दायर की गई।

विचारोदय न्यूज़ को डाउनलोड करें 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..