सुभाष नगर रेलवे ओवरब्रिज
सुभाष नगर रेलवे ओवरब्रिज

रेलवे ओवरब्रिज की शुरुआत से रोज 3 लाख लोगों को फायदा मिलेगा

Advertisement

भोपाल में सुभाष नगर आरओबी (रेलवे ओवरब्रिज) करीब 19 महीने के इंतजार के बाद नवंबर से शुरू हो सकता है। नगर निगम ने ट्रैफिक को रोकने के लिए सिग्नल लगाना शुरू कर दिया है। एक सप्ताह के भीतर सिग्नल लग जाएंगे। इसके बाद ट्रैफिक का ट्रायल होगा। आरओबी की शुरुआत से रोज 3 लाख से ज्यादा लोगों को फायदा मिलेगा।

आरओबी प्रभात चौराहा से मेदा मिल रोड तक 40 करोड़ रुपए में बना है। 690 मीटर लंबा ब्रिज टूलेन है, जो नए को पुराने शहर को जोड़ेगा। करीब 19 महीने पहले यह ब्रिज बनकर तैयार हो चुका है, लेकिन एमपी नगर से सुभाष रेलवे फाटक के बीच मेट्रो के पिलर खड़े करने और गर्डर की लॉन्चिंग होने के कारण ब्रिज की सड़क से ट्रैफिक शुरू नहीं हो सका था। हालांकि, सितंबर में गर्वमेंट प्रेस से रेलवे फाटक के बीच मेट्रो के पिलर और गर्डर लॉन्चिंग का काम पूरा हो चुका है, लेकिन PWD ने अब तक ब्रिज से ट्रैफिक शुरू नहीं किया। इस संबंध में मंत्री विश्वास सारंग ने अफसरों को निर्देश भी दिए थे। आखिर सिग्नल लगाने की शुरुआत कर दी गई है।

भोपाल के बड़े तालाब में धक्का देकर दोस्त ने की युवक की हत्या,एक्टिवा-पर्स लेकर भागा दिल्ली में पकड़ाया

सिग्नल लगाकर करेंगे ट्रायल

सिग्नल लगाकर ओवरब्रिज से ट्रैफिक निकालने का ट्रायल होगा। इसके बाद यह पूरी तरह से खोल दिया जाएगा।

इसलिए सिग्नल की जरूरत

एमपी नगर से जिंसी चौराहे की ओर जाने वाले वाहन बिना किसी अड़चन से गुजर सकेंगे, लेकिन यदि ये वाहन आरओबी से होकर सुभाष नगर चौराहे की ओर जाते हैं तो सिग्नल की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि जिंसी चौराहे का ट्रैफिक एक तरफ से आएगा। ऐसे में एक्सीडेंट होने का खतरा रहेगा। इसलिए ब्रिज से पहले सिग्नल लगाकर ट्रैफिक को रोका जाएगा।

भोपाल में आश्रम-3 की शूटिंग के दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने दौड़ा-दौड़ाकर मारा, गाड़ियां तोड़ीं

मंत्री कर चुके निरीक्षण

अगस्त में मंत्री विश्वास सारंग ने पीडब्ल्यूडी, मेट्रो और रेलवे के अधिकारियों के साथ दौरा कर ओवरब्रिज से ट्रैफिक जल्द शुरू करने को कहा था। इसके लिए ट्रायल भी होना था, लेकिन सिग्नल नहीं लगने से ट्रायल नहीं हो पाया है।

T20 वर्ल्डकप से जुड़े सभी समाचार अपने व्हाट्सएप में पाने के लिए क्लिक करें

यह मिलेगा फायदा

यह ओवरब्रिज नए को पुराने शहर से जोड़ेगा। ब्रिज शुरू होने के बाद आसपास के क्षेत्रों के तीन लाख रहवासियों को सीधा फायदा होगा। सुभाष नगर व रचना नगर अंडर ब्रिज के साथ अशोका गार्डन पर घंटों लगने वाले जाम की समस्या भी हल होगी। वहीं एमपी नगर और प्रभात चौराहा क्षेत्र से भोपाल स्टेशन, अशोका गार्डन व पिपलानी, गोविंदपुरा, एमपी नगर, रचना नगर की ओर आने-जाने वालों को सहूलियत होगी।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply