मध्यप्रदेश में मीडियाकर्मियों और उनके परिवार का कोरोना के इलाज का खर्च सरकर उठाएगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, डिजिटल मीडिया के सभीमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, डिजिटल मीडिया के सभी अधिमान्य और गैर अधिमान्य पत्रकारों का कोरोना के इलाज की चिंता सरकार करेगी। इसमें डेस्क में कार्यरत पत्रकार, कैमरामैन व फोटोग्राफर सभी को कवर किया जाएगा।

Advertisement

भोपाल के आसपास के गाँव में नहीं हो सकेगा कोई आयोजन कलेक्टर ने दिया निर्देश

मध्यप्रदेश में कई मीडियाकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इनके इलाज को लेकर पत्रकार संगठनों ने पिछले दिनों मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी। इसके अलावा जिला स्तर पर पत्रकार संगठनों ने कलेक्टरों और स्थानीय जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन भी सौंपे थे।

कोरोना काल में सांसों के साथ अपनों ने छोड़ा हाथ, स्वयंसेवक ऐसे निभा रहे मानवता का रिश्‍ता

मुख्यमंत्री ने कहा, कोरोना के इस संक्रमण काल में मीडिया कर्मी पत्रकारिता के धर्म का और अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं। इस दौरान कई पत्रकार कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से कई पत्रकारों का निधन भी हो चुका है। ऐसे हालातों में जरूरी है कि उनका इलाज ठीक तरीके से हो जाए। ऐसे में सरकार ने फैसला लिया है कि प्रिंट, इलेट्रानिक और डिजिटल मीडिया के संपादकीय विभाग में कार्यरत सभी कर्मचारियों व उनके परिवार का इलाज सरकार कराएगी।

मध्यप्रदेश के तीन शहरों में लॉकडाउन 25 मई तक बढ़ाया

बता दें कि मध्यप्रदेश में अधिमान्य और गैर अधिमान्य पत्रकारों को पहले से ही पत्रकार बीमा योजना अंतर्गत इलाज की व्यवस्था की गई है। पत्रकार कल्याण योजना द्वारा सहायता दी जा रही है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply