कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का असर सोमवार को भी शेयर बाजार में देखा गया। सेंसेक्स करीब 1200 अंकों की बढ़त के 39,312.94 पर खुला। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज निफ्टी 276.60 अंक बढ़कर 11550.80 तक पहुंच गया। विदेशी संस्थागत निवेशकों और घरेलू निवेशकों ने जमकर खरीदारी की

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जैसे ही कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का ऐलान किया घरेलू बाजार शुक्रवार को गुलजार हो गया। बाजार में एक दशक बाद की सबसे बड़ी एक दिनी तेजी देखी गई। घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने शुक्रवार को दिनभर के कारोबारी सत्र के दौरान 3,000 करोड़ रुपये का निवेश किया।
व्यापार समझौता जल्द नहीं हुआ तो चीनी सामान पर टैक्स बढ़ा देगा अमेरिका..

सुस्‍त पड़ी अर्थव्‍यवस्‍था को बूस्‍ट देने के लिए शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक बार फिर मुखातिब हुई। इस बार वित्त मंत्री ने कॉरपोरेट सेक्‍टर के लिए कई बड़े ऐलान किए। इसका शेयर बाजार ने जबरदस्‍त तरीके से स्‍वागत किया। सरकार के बूस्टर डोज की वजह से कारोबार के दौरान शेयर बाजार में इतिहास की सबसे बड़ी तेजी आई. कारोबार के दौरान एक वक्‍त सेंसेक्‍स में 2250 अंक से अधिक की बढ़त देखी गई। कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स 1921 अंक उछलकर 38,014 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं, निफ्टी भी 569 अंक की तेजी के साथ 11,274 पर रहा।

इतिहास की सबसे बड़ी बढ़त

निर्मला सीतारमण की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के बाद शेयर बाजार ने जो रफ्तार पकड़ी, उसने एक नया रिकॉर्ड बना दिया। दरअसल, कारोबार के दौरान एक वक्‍त सेंसेक्‍स 2250 अंक से अधिक बढ़त के साथ कारोबार करता दिखा तो वहीं निफ्टी ने भी 650 अंकों से अधिक की बढ़त दर्ज कर ली। इससे पहले 18 मई, 2009 को सेंसेक्‍स में 2,110 अंक की तेजी आई थी। तब तत्कालीन यूपीए सरकार के एक बार फिर से सत्ता में वापस लौटने का जश्न मार्केट ने मनाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here