सऊदी अरब में कोड़े मारने की सज़ा नहीं दी जाएगी. एक लीगल डॉक्युमेंट के आधार पर यह बात कही जा रही है

Advertisement

सऊदी अरब के सुप्रीम कोर्ट ने अपने निर्देश में कहा है कि इसके बदले या तो जेल की सज़ा दी जाएगी या फिर उसे जुर्माना भरना होगा.

इस निर्देश को सऊदी किंग सलमान, उनके बेटे क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के मानवाधिकार सुधारों को और विस्तार देने की कड़ी के तौर पर देखा जा रहा है.

सऊदी अरब की वहां के कुछ क़ानूनों को लेकर और हाल के साल में सऊदी पत्रकार जमाल ख़ाशोज्जी की हत्या को लेकर काफ़ी आलोचना होती रही.

कोरोना सर्वाइवर दोबारा संक्रमित नहीं होंगे, इसके कोई सबूत नहीं: WHO..

आलोचना करने वाले समूहों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का आरोप है कि सऊदी अरब दुनिया के उन सबसे बुरे देशों में से एक है जहां मानवाधिकारों का सबसे अधिक उल्लंघन होता है. जहां अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर गंभीर तौर पर प्रतिबंध है और जहां शासन के ख़िलाफ़ बोलने वालों को कभी भी गिरफ़्तार किया जा सकता है.

https://www.youtube.com/channel/UCtR9ml1AXlXIG8WiuxhzTOQ

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply