पूर्व मंत्री स्व. जुगल किशोर बागरी की बहू वंदना देवराज बागरी ने भी भरा पर्चा।
पूर्व मंत्री स्व. जुगल किशोर बागरी की बहू वंदना देवराज बागरी ने भी भरा पर्चा।

सतना के रैगांव में भाजपा में बगावत हो गई है। टिकट के प्रबल दावेदार माने जा रहे पूर्व मंत्री जुगल किशोर बागरी के बेटे और बहू पार्टी के खिलाफ चले गए हैं। पुष्पराज बागरी ने जहां खुद नामांकन दाखिल किया है। वहीं, देवराज ने अपनी पत्नी वंदना को चुनाव मैदान में उतार दिया है। शुक्रवार को दोनों ने ही निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल किया। भाजपा द्वारा प्रतिमा बागरी को टिकट देने के बाद से ही इन्होंने बगावती रुख अपना लिया था।

Advertisement

खंडवा लोकसभा सीट पर घमासान,कमलनाथ से मिल अरुण यादव ने कहा समर्पित कार्यकर्ता को प्रत्याशी बनाया तो करुंगा मदद तो वहीं शेरा का कहना मुझे मिलेगा टिकट

गुरुवार को वे अपने समर्थकों के साथ नामांकन फार्म लेने कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। इसी मामले में पुष्पराज बागरी और उनके भाई सहित 20 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। पुष्पराज ने 2013 में भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था। तब बसपा की ऊषा चौधरी से 4109 वोटों से हार गए थे।

रणजीत सिंह हत्याकांड में राम रहीम सहित 5 आरोपी दोषी करार,13 अक्टूबर को होगा सजा का एलान

रैगांव क्षेत्र से भाजपा के विधायक एवं पूर्व मंत्री रहे स्व. जुगुल किशोर बागरी के बेटे पुष्पराज बागरी और देवराज बागरी समेत 20 लोगों के खिलाफ सिटी कोतवाली थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। इनके विरुद्ध धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में केस दर्ज हुआ है। पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज किया है।

पुष्पराज और देवराज गुरुवार को नामांकन फार्म लेने पहुंचे थे।
पुष्पराज और देवराज गुरुवार को नामांकन फार्म लेने पहुंचे थे।

इंदौर के सांसद का खंडवा में कटा चलान,चालान कटने के बाद कार से उतर कर बाइक से गए सांसद

भाजपा से रैगांव सीट के लिए प्रतिमा बागरी को प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद से ही पुष्पराज बागरी के घर समर्थकों की भीड़ जुट रही है। पुष्पराज तो नामांकन पत्र पहले ही ले आए थे, लेकिन देवराज ने पर्चा नहीं खरीदा था। समर्थकों का दबाव बढ़ा तो टिकट की घोषणा के पहले तक अलग-अलग राह पर चल रहे दोनों भाई एक हुए। गुरुवार को पुष्पराज, भाई देवराज के लिए नामांकन पत्र लेने कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। उनके साथ दो दर्जन से ज्यादा समर्थक थे।

पूर्व मंत्री स्व. जुगल किशोर बागरी की बहू वंदना देवराज बागरी ने भी भरा पर्चा।
पूर्व मंत्री स्व. जुगल किशोर बागरी की बहू वंदना देवराज बागरी ने भी भरा पर्चा।

ग्राम विकास अधिकारी के 3896 पदों पर जल्द करें अप्लाई, 9 अक्टूबर है आखिरी तारीख

शुक्रवार सुबह पुलिस ने इनके कलेक्ट्रेट पहुंच कर पर्चा लेने पर संज्ञान ले लिया। माना गया कि इन्होंने आचार संहिता लगने के बाद जिला मजिस्ट्रेट अजय कटेसरिया द्वारा जिलेभर में प्रभावी की गई धारा 144 का उल्लंघन किया है।

टीआई सिटी कोतवाली एसएम उपाध्याय ने बताया कि पुलिस ने पुष्पराज बागरी और देवराज बागरी समेत 20 लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन का प्रकरण दर्ज किया है। इनके साथ आए अन्य लोगों की भी पहचान की जा रही है।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply