मुरैना।मध्यप्रदेश के मुरैना जिले से सरपंच पति द्वारा अधिकारियों पर सरेआम फायरिंग करने का मामला सामने आया है।घटना में जनपद पंचायत एडीईओ की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, दो अन्य अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, जिन्हें आनन-फानन में इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं, सूचना मिलने से मौके पर पहुँच पुलिस कार्रवाई कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, घटना बुधवार शाम 5.30 बजे जौरा थाना क्षेत्र के बिलगांव-कुम्हेरी के बीच की है। जिले के नंदपुरा गांव के सुभाष सिकरवार ने सरपंच के खिलाफ शिकायत की थी। शिकायत के आधार पर जनपद पंचायत के अधिकारी जांच के लिए नंदपुरा गांव पहुंचे थे, इससे नाराज होकर सरपंच पति कल्लू सिकरवार ने अपने 10-15 साथियों के साथ मिलकर शिकायतकर्ता की एसयूवी कार पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। फायरिंग में कार में सवार जनपद जौरा के एडीईओ (सहायक विकास विस्तार अधिकारी) शिवचरन शाक्य की मौत हो गई, जबकि पंचायत इंस्पेक्टर जगन्नाथ सिकरवार व शिकायतकर्ता सुभाष सिकरवार जख्मी हो गए।

यह भी पढ़े : कश्मीर के बाद अब mp के सभी जिलों में अलर्ट जारी, अफवाहों से रहें सावधान

फायरिंग से आगे चल रही एसयूवी का पिछला शीशा चकनाचूर हो गया। कार की बीच की सीट पर बैठे एडीईओ शिवचरन शाक्य को एक गोली लगी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक-एक गोली लगने से सुभाष व जगन्नाथ जख्मी हो गए। शिकायतकर्ता सुभाष सिकरवार का बेटा सौरभ गाड़ी को भगाकर ले गया। इसके बाद आरोपी कुम्हेरी की ओर भाग निकले। दोनों घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।घटना के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए।बताया जा रहा है कि आरोपियों की गाड़ी इतनी तेज रफ्तार में थी कि सबलगढ़ से लौट रहे सुमावली के पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह सिकरवार व जिलाध्यक्ष भाजपा केदार सिंह यादव की गाड़ी को भी टक्कर मार दी। हालांकि जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक बाल-बाल बच गए। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।

यह भी पढ़े :कश्मीर पर बड़ा फैसला: दिग्विजय ने कहा- तानाशाही की आहट, संसद पहुंचने से पहले मुस्कुराए थे अमित शाह

@vicharodaya

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here