रेत माफिया ने मांगा GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स,ग्वालियर पुलिस ने किया गिरफ्तार

रेत माफिया ने मांगा GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स
रेत माफिया ने मांगा GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स
Share this News

ग्वालियर पुलिस ने रेत के डंपर लूटने वाले सरगना को गिरफ्तार किया है वह रेट डंपर के ड्राइवर से GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स 15000 रुपए महीना चाहता था।

रेट डंपर के ड्राइवर और हेल्परों से राइफल अड़ाकर 50 हजार रुपए लूटने वाले गैंग के सरगना को ग्वालियर पुलिस ने गिरफ्तार किया है ग्वालियर पुलिस के मुताबिक गैंग के सरगना हरेंद्र गुर्जर ने पुलिस से कहा, ‘मुझे रेत खदान पर आने-जाने वाले वाहनों से 15 हजार रुपए महीना GST चाहिए। GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स।’पुलिस ने बताया कि बदमाश के दो साथी रामस्वरूप गुर्जर और नानू उर्फ नारायण गुर्जर फरार हैं। उनकी तलाश कर रहे हैं।

रेत माफिया ने मांगा GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स
रेत माफिया ने मांगा GST मतलब गुंडा सर्विस टैक्स

मिली जानकारी के मुताबिक यह गैंग सिंध नदी से रेट लाने वाले डंपरों को बेहट के जंगलों के पास लुटते थे लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए यह गैंगस्टर गायों को झुंड को देख रोड पर छोड़ देते थे जिसे देख ड्राइवर ब्रेक लगा देते थे मौका देख यह गैंगस्टर डंपर स्टाफ पर कई राउंड फायर करते थे इसके बाद वह लूट की वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते थे

MP Politics: आज छिंदवाड़ा में हो सकता है बड़ा खेला, दल बदलने को पहुंचे संकड़ों कांग्रेसी

आपको बता दे ग्वालियर शहर से लगभग 50 किलोमीटर दूरी पर स्थित रतनगढ़ के जंगलों से रेत से भरे हुए ट्रक और डंपर सिंध नदी के किनारे खदान तक जाते थे इन्हीं गांवों के पास से सटे जंगलों में बदमाश लूटपाट की वारदात को अंजाम देते थे आपको बता दें बेहट थाना क्षेत्र के बेहट, रनगंवा, रतनगढ़ से लगे जंगल में पिछले 20 दिन में 3 डंपर के स्टाफ से लूटपाट और फायरिंग की घटनाएं हो चुकी हैं।

पिता के नाम रजिस्टर्ड राइफल का लूट में इस्तेमाल

SDOP बेहट संतोष पटेल ने बताया कि बदमाशों की तलाश में उटीला, हस्तिनापुर और बेहट पुलिस ने सर्च किया। हरेंद्र गुर्जर (टिकटौली, बेहट) को 6500 रुपए कैश, टूटे मोबाइल, बाइक और राइफल जब्त कर गिरफ्तार किया है। उसके साथी भिंड जिले के मौ के रहने वाले नानू उर्फ नारायण गुर्जर और रामस्वरूप गुर्जर अभी फरार हैं। आरोपियों ने रेत खदान पर जा रहे भिंड के गोरमी के रहने वाले डंपर चालक देवेंद्र गुर्जर और हेल्पर लवकुश गुर्जर से लूटपाट की थी।

पकड़े गए बदमाश से मिली 35 बोर की राइफल उसके पिता के नाम पर रजिस्टर्ड है। उसने पूछताछ में बताया कि यह बंदूक उसके पिता की है। वारदात में एक बंदूक और इस्तेमाल की गई है। यह भी दूसरे आरोपी के पिता की बताई जा रही है।

हमें व्हाट्सएप पर फॉलो करें