सचिन पायलट ने बताया- 3 मई के बाद क्या हो सकता है लॉकडाउन हटाने का फॉर्मूला..

    Share this News

    कोरोना के खिलाफ जारी जंग के बीच केंद्र और राज्य सरकारें उचित कदम उठा रही हैं. कोरोना से निपटने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की समय अवधि 3 मई तक है, लेकिन लॉकडाउन आगे बढ़ेगा या नहीं, ये अभी तय नहीं हुआ है. इस बीच राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने लॉकडाउन हटाने को लेकर कुछ सुझाव दिए हैं.

    ई-एजेंडा आजतक के ‘ये जंग नहीं आसान’ सेशन में सचिन पायलट ने कहा कि 3 मई के बाद लॉकडाउन फेज वाइज हटा सकते हैं. ऐसा नहीं होना चाहिए कि लॉकडाउन खुले और स्थिति बिगड़ जाए. लॉकडाउन राज्य सरकार और एक्सपर्ट्स की राय लेकर खोलना चाहिए.

    सऊदी अरब में अब नहीं मिलेगी कोड़े मारने की सज़ा- सुप्रीम कोर्ट

    उन्होंने कहा कि लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था पर प्रभाव पड़ रहा है. हम ज्यादा दिन ऐसे नहीं रह सकते हैं वरना गरीबी बढ़ने लगेगी. उन्होंने कहा राज्य में लॉकडाउन को हमने काफी सही तरीके से मैनेज किया है.

    सचिन पायलट ने कहा कि जहां ग्रीन जोन है वहां पर गतिविधियां बढ़ाई जानी चाहिए. अर्थव्यवस्था पर भी हमें ध्यान देना होगा. मेरा निजी तौर पर मानना है कि ग्रीन जोन को बंद करके नहीं रखा जाना चाहिए, लेकिन रेड जोन में लॉकडाउन लागू रखना चाहिए.

    कोरोना सर्वाइवर दोबारा संक्रमित नहीं होंगे, इसके कोई सबूत नहीं: WHO..

    रिहाइशी इलाकों में दुकाने खोले जाने के फैसले पर पायलट ने कहा कि हम केंद्र के फैसले को लागू करते हैं और उनकी सलाह मानते हैं, लेकिन हर राज्यों और जिलों की परिस्थितियां अलग होती हैं. हमने सुधारों के साथ लॉकडाउन किया है. जिनके पास घर नहीं है उनके लिए व्यवस्था करनी होगी. केंद्र सरकार को इसके लिए रणनीति बनानी होगी.

    भीलवाड़ा में सुपर कर्फ्यू लगाया थाः पायलट!

    भीलवाड़ा मॉडल पर सचिन पायलट ने कहा कि हर राज्य की अलग-अलग स्थिति है. भीलवाडा में हमने सुपर कर्फ्यू लगाया था, लेकिन शहर में इसे लगाने में समय लग गया. राज्य में 38 से 40 जगह कर्फ्यू है. पूरे देश में संक्रममित लोगों की संख्या बढ़ रही है. पूरी दुनिया इससे जूझ रही है. आने वाले समय में हम कोरोना पर काबू पा लेंगे.