पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद हुई हिंसा पर मध्यप्रदेश के CM शिवराज सिंह चौहान ने ममता बनर्जी को नसीहत दी है। शिवराज ने सोशल मीडिया पर लिखा- दीदी याद रखना.. राजनीति में कुछ भी स्थाई नहीं होता है। परिस्थितियां बदलने में देर नहीं लगती है। अंतत: दंड भोगना ही पड़ता है।

Advertisement

भोपाल: अस्पताल की 5वीं मंजिल से कूदकर कोरोना संक्रमित मरीज ने दी जान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पश्चिम बंगाल में जिस तरीके से तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता लोकतंत्र की हत्या कर रहे हैं। जनता पर अत्याचार किया जा रहा है। यह अत्यंत दुखदायी और निंदनीय है। जनता ने अगर टीएमसी को जनादेश दिया है। उन्हें इसका सम्मान करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा- टीएमसी को जनता ने अपना रक्षक चुना, लेकिन इस पार्टी के कार्यकर्ता जनता के भक्षक बने हुए हैं। जिन्होंने सिर्फ 2 दिन में लोकतंत्र को खंडित कर दिया है।

 

बता दें कि शिवराज सिंह चौहान ने बंगाल चुनाव के दौरान 2 अप्रैल को एक रैली में कहा था- टीएमसी का मतलब-“तोड़ो मारो काटो” तथा टेरर, मर्डर व कप्शन बताया था।

ऑक्सीजन और बेड न मिलने से कोरोना पॉजिटिव प्रेग्नेंट नर्स की मौत, नर्सों और डॉक्टरों की हड़ताल

शिवराज ने कोलकाता के निकट धुलागोरी मोड़ से हावड़ा साउथ तक परिवर्तन रैली की थी। इसके अलावा धुलागोरी, आलमपु, हावड़ा साउथ,आमरिया, मोयनाऔर खेजुरी विधानसभा क्षेत्रों में बीजेपी के लिए सभाएं की थी।

मध्यप्रदेश: ऑक्सीजन सिलेंडर से भरी पिकअप पलटी, सप्लाई आधा घंटे तक रूकी

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply