देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन है. लेकिन कोरोना वायरस संक्रमितों के मिलने का सिलसिला थम नहीं रहा है. इस बीच, पुरानी दिल्ली के चांदनी महल इलाके की 13 मस्जिदों से 102 जमातियों को निकाला गया था. इनमें अब 52 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.

Advertisement

Aishwarya Rai और Aamir Khan ने कोई फिल्म साथ क्यों नहीं की?

मस्जिदों से निकाले गए बहुत से जमाती तबलीगी जमात के मरकज के बताए जा रहे हैं. इनमें विदेशी भी हैं. चांदनी महल इलाके के 3 लोगों की 3 दिन में कोरोना से मौत हो चुकी है. 6 अप्रैल को इन सब लोगों को चांदनी महल इलाके की अलग-अलग 13 मस्जिदों में से निकालकर गुलाबी बाग के क्वारनटीन सेंटर में रखा गया था.

वहीं अब इनमें से 52 लोगों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद जिलाधिकारी ने सख्त आदेश दिए हैं कि पूरे इलाके को तुरंत सील किया जाए और जरूरी सामान घर तक पहुंचाने का इंतजाम हो. पूरा इलाका सैनिटाइज किया जाएगा. उन लोगों की भी पहचान की जा रही है, जो इनके संपर्क में आए हैं. डोर टू डोर सैंपल लेने के लिए कहा गया है.

भारतीय सेना का पाकिस्तान को कड़ा सबक- चौकियों किया तबाह..

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज में शामिल होने वाले कई लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से हड़कंप मच गया. इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले विभिन्न राज्यों के लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई. कई लोगों को कोरोना वायरस की चपेट में आने से जान भी गंवानी पड़ी.

कोरोना का कहरः भारत पर लगी हैं दुनियाभर की नज़रें, तीसरा चरण शुरू..

बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में तमाम कोशिशों के बावजूद संक्रमण की रफ्तार थम नहीं रही है. कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए अब दिल्ली में 30 कंटेनमेंट जोन चिन्हित किए गए हैं. यहां और सख्ती बरती जाएगी और कड़ी निगरानी रखी जाएगी और किसी को आने-जाने की इजाजत नहीं होगी. दिल्ली में भी लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो रही है. वहीं अब तक दिल्ली में कोरोना वायरस के 900 से ज्यादा मरीज सामने आ चुके हैं.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply