देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते जहां एक तरफ अस्पतालों में बेडो की संख्या कम है, वहीं दूसरी ओर ऑक्‍सीजन की किल्‍लत हो रही है। गुरुवार को ऑक्‍सीजन की हो रही आपूर्ति को दुरुस्‍त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद कमान संभाल ली है।पीएम मोदी ने अधिकारियों को ऑक्‍सीजन की कमी को पूरा करने के भी निर्देश दिए।

Advertisement

भोपाल में बैरिकेडिंग और इमरजेंसी में जाने के व्यवस्था प्लान

प्रधानमंत्री मोदी ऑक्सीजन की आपूर्ति की समीक्षा करने और इसकी उपलब्धता को बढ़ाने के तरीकों और साधनों पर चर्चा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की, इस बैठक में नीति आयोग और मेडिकल क्षेत्र के अधिकारी भी शामिल थे,इस बैठक में अधिकारियों ने पीएम मोदी को पिछले कुछ हफ्तों में ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी।

भोपाल में संक्रमित होने के बावजूद डॉ निभा रहे अपना फर्ज

प्रधान मंत्री जी ने बैठक में कहा कि जमाखोरों से राज्य सरकार को सख्ती से पेश आना चाहिए, और यह भी निर्देश दिए हैं कि शहरों और राज्यो के बीच ऑक्सीजन सप्लाई कर रहे वाहनों की मूवमेंट बिना किसी रोक टोक के होगी, किसी भी अथॉरिटी की तरफ़ से ऑक्सीजन ले रही गाड़ी को मजबूत नहीं करेगी कि किसी खास इलाके खास जिले को ऑक्सीजन दे।

राज्यों से तकरार के बीच केंद्र का निर्देश: कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन सप्लाई कोई रोक नहीं सकता

जारी निर्देश में बताया गया कि ऑक्सीजन निर्माता और सप्लायर के उपर कोई रोक टोक नहीं लगाई जा सकती ,कि वे सिर्फ वहीं उसी राज्य या जिले में सप्लाई करे जहां पर इसका उत्पादन किया जा रहा हैं

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply