कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप से कोई भी व्यक्ति अछूता नहीं रह गया है फिर चाहे वह फ्रंट लाइन वर्कर हो या समान्य व्यक्ति संक्रमण फैलता ही जा रहा है जिसके चलते पूरे मध्यप्रदेश में एक बार फिर लॉकडाउन लगाना पड़ गया है।

Advertisement

 

 

प्रशासन पहुंचा फसल काटने तो दो युवतियों ने खुद पर डाला पेट्रोल जानिए क्या है पुरा मामला ?

जिसकी व्यवस्था कायम रखने का जिम्मा पुलिसकर्मियों को सौंपा गया है वह जगह-जगह जाकर लोगों को कोरोना वायरस से बचने और मास्क पहने के लिए निरंतर जागरूक करने का प्रयास करते नज़र आ रहे हैं जिसके लिए प्रशासन ने कई जरूरत की चीज़ों को छोड़ बंद रखने के आदेश दिए हैं साथ ही पुलिस सड़क पर फालतू घूम रहे लोगों के खिलाफ कार्यवाही भी कर रही है

सरकारी आंकड़ों में सिर्फ 4 मौतें जबकि 84 अंतिम संस्कार हुए,भोपाल में एक बार फिर 1984 जैसा डर

लेकिन इस बार लापरवाही का मामला पुलिस विभाग की ओर से ही सामने आया है जिसमें ऐसे कई पुलिस वाले हैं जो डयूटी के दौरान मास्क और फेस शील्ड पहने नजर नहीं आते आपको बता दें केवल राजधानी भोपाल में 1300 से अधिक पुलिस कर्मी संक्रमित हो चुके हैं जिसमे से 4 कर्मी ने अब तक कोरोना के चलते दम तोड़ दिया है

टीकमगढ़: नवोदय विद्यालय पहुंचा कोरोना संक्रमण ,1 नर्स समेत 6 बच्चे पॉजिटिव

आपको बता दें पुलिस कर्मियों को फेस शिल्ड और मास्क पहनने के आदेश है और यह मास्क फ्री में उपलब्ध कराए जा रहे हैं जिसके बाद भी पूरे शहर भर में इक्का-दुक्का पुलिस वालों को छोड़ दिया जाए तो ज्यादातर पुलिसकर्मी बिना फेस शिल्ड और मास्क के ही ड्यूटी करते नजर आते हैं

मिली जानकारी के मुताबिक भोपाल भर में अब तक 1311 से अधिक पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं वर्तमान में 70 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हैं और 4 पुलिसकर्मियों ने कोरोनावायरस से दम तोड़ दिया है जिसके बाद भी लापरवाही जारी है

MPPSC: कोरोना संक्रमण के चलते अब राज्य वन सेवा मुख्य परीक्षा हुई स्थगित

भोपाल जिले में लगभग 4000 फेस शिल्ड बांटे जाने हैं जिसमें से डेढ़ हजार फेस शिल्ड बांटे जा चुके हैं भोपाल रक्षित निरीक्षक कार्यालय ने बताया कि 20-20 फेस शील्ड सभी थानों में पहुंचाए जा चुके हैं जिन्हें फील्ड में काम कर रहे कर्मियों को देना होगा

पूर्व मंत्री ने महिला हेड कॉन्स्टेबल को सस्पेंड कराने दी धमकी, कॉन्स्टेबल बोली कर दूंगी रिपोर्ट

अफसरों का दावा है कि फेस शिल्ड बांटी जा चुकी है तो वही फील्ड में कार्य कर रहे पुलिसकर्मियों से मिली जानकारी के मुताबिक अफसरों ने अपने चहेते पुलिसकर्मियों को फेस शिल्ड दे दी है और 75% स्टाफ बिना फेस शील्ड के ही कार्य कर रहा है इतना ही नहीं थाने से सैनिटाइजर तक की व्यवस्था नहीं की गई है

बेटी को ढूंढने के लिए पुलिस ने मांगे एक लाख, परेशान पिता ने फांसी लगा कर दे दी अपनी जान

भोपाल डीआईजी का आदेश है कि मास्क और फेस शिल्ड सभी पुलिस कर्मियों को पहनना अनिवार्य है यह सभी को निशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है मास्क और फेस शिल्ड ना पहनने वाले कर्मियों पर औचक निरीक्षण कर उचित कार्रवाई की जाएगी

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply