नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) साल 2001 में गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे और 26 मई 2014 को उन्होंने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी. इस दौरान उन्होंने एक दिन भी छुट्टी नहीं ली है.

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार (23 मार्च) को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के संसदीय दल की बैठक को संबोधित किया और पार्टी के सांसदों को अपना संदेश दिया. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि मैंने मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री रहते कभी एक भी छुट्टी नहीं ली है, जो भी काम किया है वह इतिहास बनेगा. बता दें कि नरेंद्र मोदी साल 2001 में गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे और 26 मई 2014 को उन्होंने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी.

FB की दोस्‍ती जिस्‍मानी रिश्‍तों में बदली, संबंध बनाने से इनकार पर पत्‍थर से कुचल डाला

पीएम ने उपस्थिति को लेकर पहले भी दिए थे कड़े संदेश

नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने पहले भी संसद में उपस्थिति को लेकर सांसदों को कड़े शब्दों में संदेश दिया था. 10 मार्च को हुई संसदीय दल की बैठक में भी पीएम मोदी ने सांसदों को नसीहत दी थी और कहा था कि सभी सांसदों को सत्र के दौरान सदन के भीतर मौजूद रहना चाहिए. उन्होंने कहा था, ‘यह ठीक नहीं है कि पार्टी के सांसदों को सदन में उपस्थिति के बारे में बार-बार याद दिलाया जाए.’ संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी द्वारा संसद में भाजपा सांसदों की उपस्थिति की जरूरत का जिक्र करने के बाद पीएम मोदी ने पार्टी सांसदों को यह संदेश दिया.

बीवी को भगा ले गया पक्का दोस्त, पति ने सरेआम मारी गोली

बीजेपी सांसद के निधन के बाद टल गई थी बैठक

पहले बीजेपी संसदीय दल की बैठक (BJP Parliamentary Party meeting) 17 मार्च को होनी थी, लेकिन हिमाचल प्रदेश के मंडी से भाजपा सांसद राम स्वरूप शर्मा (Ram Swaroop Sharma) के निधन की वजह से इसे रद्द कर दिया गया था. राम स्वरूप शर्मा ने कथित तौर पर 17 मार्च को दिल्ली के गोमती अपार्टमेंट स्थित अपने फ्लैट में फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी.

ऑटो रिक्शा और बस की टक्कर में 12 महिलाओं सहित 13 लोगों की मौत,सीएम शिवराज ने किया मुआवजे का एलान

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply