नरोत्तम मिश्रा
नरोत्तम मिश्रा

कोई कल्पना कर सकता है कि ऑक्सीजन की वजह से भी लोग मर सकते हैं… लेकिन मरे: नरोत्तम मिश्रा

Advertisement

जिले के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में संबोधन के दौरान जुबान फिसल गई और कहा कि कोई कल्पना कर सकता है कि ऑक्सीजन की वजह से भी लोग मर सकते हैं… लेकिन मरे…। उनका आशय ऑक्सीजन की कमी से कोरोना मरीज की मौतो को लेकर था जिसे सरकार पहले ही सिरे से नकार चुकी है कि प्रदेश में किसी भी कोरोना मरीज की ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं हुई। मिश्रा के इस बयान को लेकर अब काफी हलचल है और कांग्रेस इस बयान को भुनाने की तैयारी में है।

भोपाल में DA और प्रमोशन के मुद्दे पर आज कर्मचारियों के संयुक्त मोर्चा ने बुलाई मीटिंग

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा प्रदेशभर में 17 सितंबर से 7 अक्टूबर 2021 तक ‘जनकल्याण और सुराज अभियान’ आयोजित किया जा रहा है। इसी कड़ी में शुक्रवार को इंदौर शिक्षा विभाग द्वारा मल्हाराश्रम स्कूल में वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

इस अभियान का शुभारंभ प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने किया। इस दौरान उन्होंने अपने उद्बबोधन में वृक्षों का महत्व समझाया और अप्रत्यक्ष रूप से स्वीकारा कि ऑक्सीजन की कमी से भी मौतें हुई हैं। उन्होंने कहा कि वृक्षों के महत्व को आने वाली पीढी को बताए तो ही हम समाज के साथ न्याय कर पाएंगे। हम अभी जो सांस ले रहे हैं वे खुली हवा से रहे हैं, वह ऑक्सीजन ही कहलाती है।

वाहनों के सामने आकर रोक रहे ट्रैफिक पुलिस कर्मी,अनहोनी को दे रहे न्योता

कोई कल्पना कर सकता है कि उस ऑक्सीजन की वजह से भी लोग मर सकते हैं लेकिन मरे। सिर्फ इसलिए कि हमने वृक्षों के महत्व को नहीं समझा। हमें जो चीज नि:शुल्क मिली उसका महत्व समझा ही नहीं। हम मान लेते हैं कि यह तो मिलना ही चाहिए, यह हमारा अधिकार ही है। अभी (इशारा कोरोना काल पर) हमने देखा कि लोगों को जिंदा रखने के लिए ऑक्सीजन प्लेन से, ट्रकों से आ रही है। ऐसे में अब लोगों का ध्यान गया हो कि ये वृक्ष कितने जरूरी हैं।

हमसे ट्विटर पर जुड़ें

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply