कटनी में रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़े जाने के डर से नोट चबा गया पटवारी,देखें विडियो

कटनी में रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़े जाने के डर से नोट चबा गया पटवारी,देखें विडियो

Share this News

नोट चबा गया पटवारी रुपए उगलवाने के लिए कराई उल्टी कराने की कोशिश; लोकायुक्त ने दी थी दबिश

नोट चबा गया पटवारी ये अनोखा मामला कटनी का है। लोकायुक्त इंस्पेक्टर कमल सिंह उइके ने बताया कि बड़खेड़ा गांव निवासी चंदन सिंह लोधी ने जबलपुर लोकायुक्त कार्यालय में 10 जुलाई को शिकायत की थी। उसने बताया कि उसके दादा की गांव में जमीन है। जिसका सीमांकन कराना है। सीमांकन करने के बदले में पटवारी गजेन्द्र सिंह पांच हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा है।

मध्यप्रदेश के रीवा में क्रूरता की हदें पार,सरपंच पति ने युवक को अर्धनग्न कर पीटा

पटवारी को पकड़ने लोकायुक्त ने बिछाया जाल

शिकायत के बाद लोकायुक्त की टीम ने पटवारी को रंगेहाथ पकड़ने की योजना बनाई। जिसके मुताबिक सोमवार को लोकायुक्त की टीम कटनी पहुंची। यहां आवेदक चंदन सिंह लोधी ने पटवारी को रिश्वत देने के लिए बुलाया। उसे पांच-पांच सौ रुपए के 9 नोट दिए। जैसे ही पटवारी ने रुपए लिए तभी लोकायुक्त की टीम वहां पर पहुंच गई।

पटवारी ने लोकायुक्त की टीम को देखते ही रिश्वत के रुपए मुंह में डाल लिए और नोटों को चबाना शुरू कर दिया। जिसके चलते लोकायुक्त की टीम उसे रुपए लेते रंगेहाथ नहीं पकड़ पाई। हालांकि लोकायुक्त ने नोटों के कुछ टुकड़े जब्त कर लिए हैं। साथ ही पटवारी गजेन्द्र सिंह के खिलाफ रिश्वत लेने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

मणिपुर घटना पर पीड़िता ने ‘बयां किया दर्द-पुलिस के सामने कपड़े उतरवाए

कायुक्त पुलिस ने रिश्वत के रुपए चबाए जाने की जानकारी कोतवाली पुलिस को भी दी है। इधर रुपए उगलवाने के लिए पटवारी को जिला अस्पताल ले जाया गया। उससे उल्टी करवाने की कोशिश की गई। लेकिन ऐसा नहीं हो सका। हालांकि चबाने के बाद उगले हुए नोटों के टुकड़ों को लोकायुक्त ने जब्त किया है। इसके अलावा दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं।

Download our App Now

Advertisement
Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..