महाराष्ट्र के पालघर में मंगलवार रात एक चार मंजिला इमारत गिर गई. मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है. बताया जा रहा है कि यह इमारत अवैध थी. राहत और बचाव कार्य के लिए नगर निगम, पुलिस और दमकल की गाड़ियां मौके पर तैनात हैं.

Advertisement

IMF बना भारत की GDP का ना बढ़ने का कारण, मोदी सरकार को बढ़ा झटका..

स्थानीय लोगों ने मलबे में दबे लोगों को निकाल कर अस्पताल पहुंचाया. घटनास्थल पर विरार पुलिस के जवान पहुंच गए हैं. राहत और बचाव का काम तेज कर दिया गया है.

जान्हवी की इच्छा, करना है कबीर सिंह का रोल…

इससे पहले सोमवार को मुंबई के अंधेरी (पश्चिम) में पेनिसुला बिजनेस पार्क बिल्डिंग में दोपहर में आग लग गई. इस इमारत में कई बॉलीवुड प्रोडक्शन हाउस हैं. खबरों के अनुसार, छत पर खड़े करीब 40 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया. 22 मंजिली इमारत के छठे फ्लोर में आग लगी थी.

रियल एस्टेट के लिए कमलनाथ सरकार का बड़ा फैसला..

पिछले महीने मुंबई के उपनगरीय इलाके खार में एक रिहायशी इमारत के एक हिस्से के गिरने से 10 साल की एक नाबालिग लड़की की मौत हो गई और दो अन्य महिलाएं घायल हो गईं. खार में 17वीं रोड पर छह मंजिला भोला अपार्टमेंट के मलबे से राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और मुंबई अग्निशमन की टीमों ने 21 अन्य लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला. दुर्घटना दिन में हुई.

दो बच्चों के साथ तालाब में कूदी मां, तीनों की मौत

इमारत के गिरने के वक्त माही डी. मोटवानी नाम की लड़की अपने कमरे में पढ़ाई कर रही थी. कई घंटे तक वह मलबे में फंसी रही. इसके बाद उसे बाहर निकालकर लीलावती अस्पताल में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply