मध्य प्रदेश के सरकारी अस्पताल में शाम को ओपीडी की सुविधा शुरू होने जा रही है अभी तक सुबह 9 बजे से शाम को 4 बजे तक ही रोगी उठा पा रहे थे सुविधा का लाभ

मध्य प्रदेश के सरकारी स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों (जिला अस्पताल, सिविल अस्पताल, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र) में इलाज के लिए आने वाले मरीज शाम को ओपीडी कि सुविधा का लाभ उठा सकेगें। प्रस्ताव में ओपीडी का समय सुबह नौ से दोपहर दो बजे और शाम को पांच से छह बजे तक किया जा सकता है जिससे रोगी शाम को ओपीडी कि सुविधा का लाभ उठा सकेगें

भोपाल में पति ने अवैध संबंध के शक में पत्नी का गला रेता,पुलिस को कहा-प्रेमी ने मार डाला

लंबे समय से मांग कर रहा है चिकित्सा अधिकारी संघ
ओपीडी के समय को बदलने को लेकर मध्य प्रदेश चिकित्सा अधिकारी संघ के तरफ से लंबे समय से मांग उठ रही थी जिसके पीछे यह तर्क दिया जा रहा था कि दोपहर में मरीज नहीं आते और डॉक्टरों को एक बार लंच पर जाने के बाद फिर से अस्पताल की तरफ आना होता है वहीं सूत्रों की माने तो जिन डॉक्टरों की प्रैक्टिस निजी अच्छी चल रही है वह शाम को ओपीडी आना नहीं चाहते

विचारोदय न्यूज़ को डाउनलोड करें 

कांग्रेस सरकार में बदला था समय
शुरुआत में सरकारी अस्पतालों में ओपीडी का समय सुबह 8:00 दोपहर के 1:00 बजे और शाम को 5:00 से 6:00 बजे तक रहता था,जिसे 2019 में कांग्रेस सरकार ने बदलकर सुबह 9:00 बजे शाम के 4:00 बजे कर दिया था। यदि इस समय शासकीय अस्पतालों में डॉक्टरों की उपलब्धता की बात करें तो पता चलता है कि कई अस्पतालों में अधिकांश डॉक्टर लंच के बाद पहुंचते हैं या फिर आते ही नहीं ऐसे में मरीजों को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है

फिलहाल यह मामला मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डा. प्रभुराम चौधरी के पास विचाराधीन है।

सरकारी एवं निजी कर्मचारी और श्रमिक नौ से चार बजे की ओपीडी में नहीं पहुंच पाते। जिन मरीजों की सर्जरी होती है, शाम को एक बार उन्हें देखना होता है। चार बजे डाक्टर देखकर जाते हैं, इसके बाद कोई परेशानी होती है तो डाक्टर को घर से आना पड़ता है। इसी कारण समय बदलने पर विचार हो रहा है।
                                                              -डा. प्रभुराम चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री, मध्य प्रदेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here