महाशिवरात्रि पर दलित युवती को पूजा करने से रोका
महाशिवरात्रि पर दलित युवती को पूजा करने से रोका

महाशिवरात्रि पर दलित युवती को पूजा करने से रोका,तमाशबीन बने लोग
Advertisement

महाशिवरात्रि के मौके पर मध्यप्रदेश के खरगोन में एक दलित युवती को भगवान शिव कि पूजा करने से रोक दिया गया।इतना ही नहीं पुजारी ने दलित युवती को मंदिर में एंट्री नहीं दी। दरसल पुरा मामला टेमला गांव का है। महाशिवरात्रि पर जब युवती पूजन करने मंदिर पहुंची, तो पुजारी ने उसे भीतर जाने से रोक दिया। पुजारी के साथ दो महिलाएं भी उसे भीतर नहीं जाने का कहने लगीं। युवती पूजा करने देने की गुहार लगाती रही। संविधान की दुहाई देती रही। पुलिस को बुलाने की भी बात कही। लेकिन उसकी एक नहीं सुनी गई। युवती कहती रही कि संविधान में कहां लिखा है कि यह सिर्फ तुम्हारे भगवान हैं। इस मामले में गुरुवार को युवती के साथ अनुसूचित जाति के लोग एसपी ऑफिस पहुंचे और विरोध जताया। जिसके बाद मेनगांव पुलिस ने पुजारी के साथ ही दो महिलाओं पर केस दर्ज किया है।

क्राइम ब्रांच भोपाल को मिली बड़ी सफलता,मुख्यमंत्री निवास के नाम पैसे मांगने वाला कानपुर से गिरफ्तार

काफी देर बहस के बाद युवती को जबरन घुसना पड़ा

महाशिवरात्रि के दिन पूजा खांडे नाम की युवती शिव मंदिर में पूजन करने पहुंची थी। वह जब मंदिर में प्रवेश करने लगी तो पुजारी ने उसे बाहर ही रोक दिया। वह भीतर जाने लगी तो दो महिलाएं भी उसे रोकने लगीं। उसने पुलिस बुलाने का कहा तो, कहने लगीं बुला ले, पर मंदिर के भीतर नहीं जाना। काफी देर तक बहस के बाद उसे जबरन पूजन के लिए मंदिर में घुसना पड़ा। पुजारी ने उसे रोकने की कोशिश भी की। इस दौरान यहां मौजूद लोगों ने वीडियो बना लिया। यह वीडियो सामने आने के बाद बवाल मच गया। गुस्साए समाजजन एसपी कार्यालय पहुंचे। उन्होंने नारेबाजी कर न्याय की मांग की।

संविधान में कहां लिखा है हमें पूजा करने से रोका जाए

पीड़िता का कहना है कि पंडित मंदिर में नहीं जाने दे रहे थे। हमें मंदिर में पूजा करने का अधिकार चाहिए, संविधान में कहां लिखा है कि हम मंदिर नहीं जा सकते। उस वक्त 100 से 200 लोग देख रहे थे। उसके बावजूद भी कुछ नहीं कहा। मंदिर में जाने का सभी को हक है।

एक्शन में निर्भया पुलिस स्क्वाड,इंदौर में पुलिस अफसर दे रहें छात्राओं को ट्रेनिंग- महिला अपराध संबंधी कानूनों की भी दी जानकारी

तीनों की जल्द होगी गिरफ्तारी
एसपी सिद्धार्थ चौधरी का कहना एक मार्च को वीडियो सामने आया था। टेमला की युवती को मंदिर में पूजा करने से रोका है। मामले में तीन के खिलाफ केस दर्ज किया है। शीघ्र गिरफ्तारी करेंगे।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रोजगार की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply