निर्भया मामले के दोषियों के शवों का पोस्टमॉर्टम हरिनगर में दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल (DDU)में थोड़ी देर बाद चिकित्सकों का पैनल शुरू करेगा। डीडीयू अस्पताल में ज्यूडिशियल हैंगिंग के मामले में पहली बार पोस्टमार्टम होगा। यहां जेल मैनुअल और सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के अनुसार पोस्टमॉर्टम किया जाएगा। समाचार एजेंसी एएनआइ से अस्पताल के एक सूत्र ने बताया कि न्यायिक मामले की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामान्य मामले से अलग होती है। दोपहर 12:30 बजे तक ऑटोप्सी पूरी होने की संभावना है। इसके बाद दोषियों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए जाएंगे।

Advertisement

सात साल बाद निर्भया को मिला इंसाफ, गैंगरेप के चारों दोषियों को तिहाड़ में फांसी पर लटकाया गया


तिहाड़ जेल के महानिदेशक के अनुसार दोषी मुकेश और विनय ने रात का भोजन किया और अक्षय ने केवल चाय प। विनय थोड़ा रोया, लेकिन सभी 4 अपराधी शांत थे। अदालत के आदेशों का उन्हें लगातार अपडेट दिया गया। यदि उनके परिजन शव लेने को तैयार हो जाते है तो उन्हें शव सौंप दिया जाएगा। नहीं तो अंतिम संस्कार करना हमारा कर्तव्य है।

निर्भया: रात भर सोए नहीं चारों दोषी, फांसी के पहले नहीं बताई आखिरी इच्छा
समाचार एजेंसी एएनआइ से DDU अस्पताल के एक सूत्र ने बताया कि न्यायिक मामले की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामान्य मामले से अलग होती है। दोपहर 12:30 बजे तक ऑटोप्सी पूरी होने की संभावना है।

निर्भया केस: फांसी से पहले विनय ने नहीं बदले कपड़े-रोते हुए मांगी माफी

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply