पपीते के ढेरों फायदों के बारे में आपने खूब सुना होगा, लेकिन हर फल के कुछ फायदे होते हैं और कुछ नुकसान भी होते हैं. जानिए पपीते के साइड इफेक्ट्स के बारे में, ताकि आप सजग रहकर इसका सेवन करें और खुद को इससे होने वाले नुकसान से बचा सकें.

पपीता एक ऐसा फल है जिसमें ढेरों औषधीय गुण पाए जाते हैं. ये कहीं भी आसानी से उपलब्ध हो जाता है. पेट की तमाम परेशानियों को दूर करने के लिए पपीते का सेवन काफी अच्छा माना जाता है. इसके अलावा ये कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी काफी मददगार माना जाता है. पपीते को कच्चे और पके दोनों रूपों में खाया जाता है. लेकिन हर चीज के कुछ फायदे होते हैं तो कुछ नुकसान भी होते हैं. पपीते के फायदों के बारे में आप काफी सुनते आए होंगे, लेकिन आज हम आपको बताएंगे इसके नुकसान के बारे में, ताकि आप सजग रहकर इसका सेवन करें और खुद को इससे होने वाले नुकसान से बचा सकें.

1. पपीते के साथ कभी केले का सेवन न करें. इन्हें विरोधी फल माना जाता है. आयुर्वेद में इनको साथ खाने के लिए मना किया जाता है. इनके साथ में सेवन करने से पाचन क्रिया गड़बड़ा सकती है और अपच, उल्टी, मितली, गैस और लगातार सिरदर्द होने की समस्या हो सकती है.

2. अगर आप अस्थमा या सांस की किसी बीमारी के मरीज हैं तो डॉक्टर की सलाह के बगैर कभी भी पपीते का सेवन न करें. दरअसल पपीते में मौजूद पपैन ऐसे लोगों के लिए एलर्जी का कारण बन सकता है. इससे सांस लेने में समस्या पैदा हो सकती है. साथ ही इसके सेवन से सूजन, चक्कर, मुंहासे और खुजली की समस्या भी हो सकती है.

3. पपीते की तासीर गर्म होती है, इसलिए इसे गर्भवती महिलाओं को नहीं खिलाना चाहिए. पपीते से गर्भ में मौजूद भ्रूण को नुकसान पहुंच सकता है. गर्भपात भी हो सकता है.

4. पीलिया के मरीजों को भी पपीते का सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए. इसमें मौजूद पपैन और बीटा कैरोटीन पीलिया को बढ़ाने का काम करते हैं. इसके अलाव सर्जरी के बाद कुछ ही हफ्तों में यदि पपीता खाना शुरू कर दिया जाए तो घाव जल्दी नहीं भर पाता.

5. पपीते में भरपूर फाइबर होने की वजह से ये पेट साफ करता है और कब्ज की समस्या दूर करता है, लेकिन इसका ज्यादा सेवन करने से पेट में दर्द, ऐंठन और डायरिया की समस्या भी हो सकती है.

पीरियड्स के दौरान दर्द को बढ़ाती हैं ये 5 चीजें, भूलकर भी न करें इनका सेवन

6. दिल की बीमारी वाले लोगों को भी ज्यादा पपीता नहीं खाना चाहिए. बहुत अधिक पपीता खाने से हृदय गति कम हो सकती है.

7. जो लोग खून को पतला करने वाली दवाओं का सेवन करते हैं, उनको पपीते का सेवन विशेषज्ञ की राय से ही करना चाहिए क्योंकि पपीते के सेवन से भी खून पतला होता है.

8. पपीता ब्लड शुगर के स्तर को भी कम कर सकता है, इसलिए जो लोग ब्लड शुगर की दवाएं ले रहे हैं, उन्हें डॉक्टर की सलाह के बगैर कभी भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए.

मध्य प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला जहरीली शराब बेचने वाले को मिलेगी फांसी की सजा

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply