उत्तर प्रदेश के बहराइच में एक सरकारी शिक्षक ने तीन अन्य शिक्षकों के खिलाफ मानसिक उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए सुसाइड नोट लिखकर उसे व्हाट्सएप पर वायरल कर दिया और सल्फास की कई गोलियां खा लीं. शिक्षक की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई.

Advertisement

पिता की प्रताड़ना से परेशान 10 साल की बेटी ने पुलिस के पास दर्ज की शिकायत

जनपद भदोही निवासी शिक्षक नीरज कुमार चौबे (मृतक) ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि वह जिस मकान में अपनी शिक्षक पत्नी के साथ किराए पर रहते हैं, उसमें रहने वाले एक शिक्षिका के पति समेत 4 अन्य सरकारी शिक्षक रहते हैं, ये लोग सभी दबंग किस्म के हैं और आए दिन उसकी पत्नी पर छींटाकशी करते हैं उनकी दबंगई का आलम ये है कि उनके खिलाफ कोई भी कुछ भी नहीं बोलता. कि आरोपी शिक्षक उसकी पत्नी को भौजी कहकर चिढ़ाते हैं, इतना ही नहीं उसी के सामने उसकी पत्नी का रेप करने की धमकी देते है. जिससे वो बेहद परेशान है और उसका सामाजिक और मानसिक उत्पीड़न हो रहा है. जिसके कारण उसकी जीने की इच्छा खत्म हो गई है और वो सुसाइड कर रहा है. मृतक ने अपने सुसाइड नोट में अपनी मानसिक उत्पीड़न की स्थिति का बयान करते हुए 29 बार “इतना परेशान” शब्द का प्रयोग किया है.

सोशल मीडिया ने ली 12 साल के बच्‍चे की जान, आग से बाल काटने वाला वीडियो बना वजह

वहीं मृतक की पत्नी ने बताया कि आरोपी शिक्षक रोज उसपर गंदे और भद्दे कमेंट्स कर हंसते थे. हमारा और उनका कमरा आमने सामने था जब हम खाना बनाते थे वो आकर बार- बार पूछते थे कि भौजी क्या बना रही हो आप. आधी रात तक तेज आवाज में गाना सुनाते थे. छत पर कपड़े डालने जाते तो बोलते थे देखो वो कौन जा रहा है. मेरे मना करने के बावजूद वो मेरी बच्ची को जबरदस्ती अपने कमरे में ले जाते थे, जिससे मैं उनके कमरे में आऊं. मुझे देखकर गंदे कमेंट करके जोर-जोर से हंसते थे और मेरे पति को ब्लैममेल करते थे. नीरज सिंह, मोहम्मद आरिफ, अनिल साहनी और नारायण गुप्ता ये चारों लोग हमें परेशान करते थे. मृतक की पत्नी ने सीएम योगी आदित्यनाथ से अपने ट्रांसफर की गुजारिश की है.

प्रेमी पति ही बना हैवान, जगंल में दोनों हाथ काट मरा समक्षकर छोड़ भागा

आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक कुंवर ज्ञानंजय सिंह का कहना है कि मृतक शिक्षक ने सुसाइड लेटर लिखकर वायरल किया और फिर सल्फास की गोलियां खा लीं. हालत बिगड़ने पर शिक्षक नीरज चौबे को लखनऊ स्थित राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया जहां आज उसकी मृत्यु हो गई.

कोर्ट परिसर के बाहर वकील पर हुई फायरिंग , जाने क्‍या थी वजह ?

उन्होंने बताया कि मृतक नीरज चौबे की पत्नी आकांक्षा मिश्रा की तहरीर पर 4 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है. सभी आरोपी मौके से फरार हैं, उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस की दो टीमें गठित की गई हैं. मृतक की पत्नी की शिकायत के आधार पर पुलिस ने नीरज सिंह, अनिल साहनी, मोहम्मद आरिफ नारायण सेवक गुप्ता के खिलाफ धारा 306/294/504 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply