पर्यावरण संरक्षण हमारे संस्कार और संस्कृति में परिलक्षित होती हैं

शासकीय महाविद्यालय नरेला भोपाल के रा.से.यो. के स्वयंसेवकों द्वारा निबंध लेखन के माध्यम से प्रकृति को माँ के समान महत्व देने, पुष्पित-पल्लवित करने, का संदेश हमारे ऋषि-मुनियों ने संस्कारो वेदों पुराणों के माध्यम से हजारों वर्ष पूर्व ही दे दिया था।

हरियाली महोत्सव के अंतर्गत निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता में विद्यार्थियों द्वारा उत्साह पूर्वक भाग लिया। इस अवसर पर प्राचार्य डॉ. वीणा मिश्रा ने युवाओं को प्रकृति संरक्षण की दिशा में नई पहल करने का आवाह्न किया।
इको क्लब प्रभारी डॉ. उषा किरण गुप्ता के साथ डॉ. संध्या खरे , डॉ. अर्चना गौर , डॉ. नीता पुराणिक, डॉ. प्रीति झारिया, डॉ. सपना शर्मा, डॉ. मुक्तेश तिवारी ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया..

यह भी पढ़े:

कमलनाथ की खुली चेतावनी मिलावटखोरों प्रदेश छोड़ो.!

जनपद अफसरों पर सरपंच के पति ने की फायरिंग,ADEO की मौत BJP नेताओं की गाड़ी भी ठोकी

इस अवसर पर विद्यार्थियों में अभिनन्दन, दीपक, अभिराज, नासिर, विरेन्द्र, साहिल, आशुतोष, अभिषेक, रवि, आरती एवं दीक्षा का विशेष योगदान रहा।

सम्पूर्ण कार्यक्रम रा.से.यो की कार्यक्रम अधिकारी डॉ. तैयबा खातून के निर्देशन में पूर्ण हुआ।

@विचारोदय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here