देश विदेश में मशहूर नमकीन और मिठाई के प्रीमियम ब्रांड हल्दीराम भुजियावाला के मालिक महेश अग्रवाल का निधन हो गया है. महेश अग्रवाल का निधन सिंगापुर में हुआ है. महेश अग्रवाल 57 साल के थे. सिंगापुर में उनका लिवर से जुड़ा इलाज चल रहा था. रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार देर रात को उनका निधन हुआ है. महेश अग्रवाल का परिवार इस वक्त सिंगापुर में है. फ्लाइट न चलने की वजह से उनका परिवार भारत नहीं आ पा रहा है.

मगरमच्छ के आंसू बहाना और पीड़ित कार्ड खेलना केजरीवाल के दो हथियार हैं : गौतम गंभीर

लिवर ट्रांसप्लांट के बावजूद नहीं बची जान!

सिंगापुर के एक अस्पताल में महेश अग्रवाल का लिवर ट्रांसप्लांट किया गया था, लेकिन उनकी जान नहीं बचाई जा सकी है.

कोरोना वायरस पर नियंत्रण के लिए नागरिकों को सामाजिक दूरी बनाए रखनी चाहिए: राष्ट्रपति कोविंद

बता दें कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए केंद्र सरकार ने सभी अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय उड़ानें रद्द कर दी हैं. भारत सहित कई देशों में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए लॉकडाउन लागू है और लोग अपने घरों में बंद हैं.

सिंगापुर की सरकार ने भी लॉकडाउन का ऐलान किया है. यहां की सरकार 7 अप्रैल से एक महीने तक के लिए लॉकडाउन का ऐलान कर चुकी है. लिहाजा महेश अग्रवाल के परिवार को घर वापसी की चिंता सता रही है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply