(सांकेतिक तस्वीर)
(सांकेतिक तस्वीर)

औरंगाबाद के ग्रामीण भागों में करीब 250 स्कूल शुरू करने का दावा महाराष्ट्र इंगलिश स्कूल ट्रस्टीज एसोसिएशन (MESTA) ने किया है. मेस्टा अध्यक्ष संजय तायडे पाटील के मुताबिक नागपुर में भी 30 से 40 स्कूल खोले गए.
Advertisement

कोरोना संक्रमण (Corona) पर नियंत्रण लाने के लिए और विद्यार्थियों को इससे सुरक्षित रखने के लिए महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने 15 फरवरी तक राज्य के स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है. लेकिन सरकार के आदेश के खिलाफ खुले कई अंग्रेजी स्कूल क्योंकि पिछले दो सालो से स्कूल बंद होने की वजह से विद्यार्थियों को काफी नुकसान हो रहा है. ग्रामीण भागों में तो ऑनलाइन सुविधा के अभाव से विद्यार्थी पढ़ाई में काफी पिछड़ गए हैं. इस तर्क के आधार पर महाराष्ट्र इंगलिश स्कूल ट्रस्टीज एसोसिएशन (Maharashtra English School Trustees Association- MESTA) ने स्कूल शुरू करने की इजाजत मांगी थी. इस संगठन ने सरकार द्वारा मांग नहीं माने जाने पर 17 जनवरी से स्कूल शुरू करने की चेतावनी भी दी थी. जब सरकार द्वारा कोई फैसला नहीं किया गया तो सोमवार (17 जनवरी) को अलग-अलग शहरों और गांवों के मेस्टा से जुड़े कुछ स्कूल खोल दिए गए.

मध्यप्रदेश में 11 हजार के पार पहुँचा कोरोना संक्रमितों का आकड़ा,41 गुना तेजी से बढ़ रहे कैस

मेस्टा के अध्यक्ष संजय तायडे पाटील (Sanjay Tayde Patil) ने औरंगाबाद के ग्रामीण भागों में करीब 250 स्कूल शुरू करने का दावा किया है. उनके दावे के मुताबिक नागपुर में भी 30 से 40 स्कूल खोले गए. मेस्टा की ओर से कहा गया है कि अलग-अलग शहरों में कितने स्कूल खोले गए, इसकी डिटेल जल्दी ही दी जाएगी.

https://youtu.be/RsWxy047JPM

स्कूल खोलने के हक में मेस्टा के अध्यक्ष ने दिए ये तर्क

स्कूल खोले जाने के समर्थन में मेस्टा संगठन के संस्थापक अध्यक्ष डॉ. संजय तायडे पाटील ने कहा, ‘घोषणा के मुताबिक ग्रामीण भागों में स्कूल शुरू हो गए हैं. शहरी भागों में भी कई स्कूल आठवीं कक्षा के बाद से शुरू किए गए हैं. कुछ स्कूलों में परीक्षाएं शुरू हैं. इस मुद्दे पर सासंद सुप्रिया सुले ने भी हमसे फोन पर संवाद साधा है. राज्य में स्कूल चरणबद्ध तरीके से शुरू किए जाएं ऐसा उन्होंने सरकार को अपनी राय दी है. स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने भी यह आश्वासन दिया है कि स्कूल शुरू करने को लेकर जल्दी ही एक मीटिंग बुलाकर फैसला किया जाएगा.’

केरल में पत्नी बदलने वाले गिरोह को भंडाफोड़..एक महिला को शेयर करते थे 3 पुरुष,7 आरोपी अरेस्ट

मुंबई-दिल्ली जैसे शहरों में  कोरोना के हालात हैं कूल, 15 दिनों में खुल सकते हैं स्कूल

बता दें कि दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों में कोरोना पॉजिटिविटी रेट घटा है. इससे स्कूल खुलने की उम्मीद बढ़ी है. वैसे तो बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए उत्तर प्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, हरियाणा, मध्य प्रदेश, गुजरात, तमिलनाडू, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों में स्कूल बंद किए गए हैं. लेकिन इस बीच महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि अगले 15 दिनों में हालात का जायजा लिया जाएगा. जिन जगहों पर कोरोना के मरीज कम पाए जाएंगे, वहां स्कूल खोलने के बारे में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे फैसला लेंगे.

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रोजगार की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply