रतलाम. मादक पदार्थों की तस्करी में पुलिस से बचने के लिए मंहगे वाहनों का उपयोग किया जा रहा है। महंगी कारे व जीप में मादक पदार्थों की तस्करी की जा रही है। रतलाम जिले के जावरा के एक युवक को नारकोटिक्स विंग इंदौर की टीम ने दस लाख रुपए की कीमत की कार में डोडाचूरा की तस्करी करते गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से 45 किलो डोडाचूरा व एक कार जब्त की गई है। आरोपित युवक को शनिवार को रतलाम न्यायालय में पेश किया गया।

Advertisement

वॉर फिल्म: दूसरे शुक्रवार की शानदार कमाई, भारत में 245.95 करोड़ का कलेक्शन किया..

जानकारी के अनुसार मादक पदार्थों की तस्करी करने वालों की धरपकड़ के लिए पुलिस की नारकोटिक्स विंग इंदौर के पुलिस महानिरीक्षक जीजी पांडे के मार्गदर्शन में विंग द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसी के तहत शुक्रवार को विंग को मंदसौर में एक युवक द्वारा कार से डोडाचूरा की तस्करी करने की सूचना मिली थी।

यूरो कप क्वालिफायर में इंग्लैंड को 10 साल बाद हार, रोनाल्डो ने किया करियर का 699वां गोल..
सूचना पर विंग के मंदसौर प्रकोष्ठ की एएसपी मीना चौहान (शर्मा) के नेतृत्व में दल ने इंदौर-नीमच हाइवे पर नामली थाना क्षेत्र के भदवासा फंटे के पास घेराबंदी की। इस दौरान आरोपित सोनू उर्फ राहुल बम्बोरिया (धाकड़) पिता भेरूलाल बंबोरिया (27) निवासी नरसिंगपुरा, जावरा हालमुकाम खाचरोद रोड जावरा को कार (एमपी-43/सीए-6471) को रोककर कार की तलाशी ली गई। तलाशी लेने पर कार में 45 किलो डोडाचूरा पाया पाया गया। इस पर आरोपित सोनू उर्फ राहुल को गिरफ्तार कर डोडाचूरा व कार जब्त कर ली गई। जब्त डोडाचूरा की कीमत 90 हजार रुपए है। राहुल के पास से पांच हजार रुपए व आधार कार्ड भी बरामद किया गया है। विंग के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (भोपाल) अजय शर्मा ने टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

कानून मंत्री रविशंकर का अजीबोगरीब बयान, कहा 1 दिन में 120 करोड़ रुपये की कमा रही है फिल्में तो कहां है मंदी?

मंदसौर, नीमच, रतलाम और इन जिलों से लगे राजस्थान के प्रतापगढ़, झालावाड़ा, चित्तौड़ आदि जिलों में भी मादक पदार्थों की तस्करी बड़े पैमाने पर होती है। पुलिस व नारकोटिक्स विभाग द्वारा हर साल करोड़ों रुपए की स्मैक, हेरोइन, डोडाचूरा, अफीम आदि पकड़े जाते हैं, इसके बाद भी मादक पदार्थों की तस्करी में कमी नहीं आ रही है।

इथियोपिया के प्रधानमंत्री अबी अहमद को मिला शांति का नोबेल पुरस्कार..

पुलिस को चकमा देने के लिए तस्कर एम्बुलेंस व नए महंगे वाहनों का उपयोग भी करते हैं। दो साल पहले मंदसौर-नीमच क्षेत्र में एम्बुलेंस में मदाक पदार्थों की तस्करी का मामला पकड़ा गया था। तभी खुलासा हुआ था कि एम्बुलेंस भी तस्करी में उपयोग में लाई जा रही है। यह मामला विधानसभा में भी उठा था और उसके बाद पुलिस की सख्ती के चलते एम्बुलेंस में तस्करी पर अंकुश लगा है।

अमिताभ बच्चन के बर्थडे पर श्वेता बच्चन ने लिखा इमोशनल मैसेज..

अब तस्कर नए व महंगे वाहनों का उपयोग कर रहे हैं, ताकि उन्हें देखकर नहीं लगे कि उनमें मादक पदार्थ ले जाया जा रहा है। सोनू उर्फ राहुल को जिस कार में डोडाचूरा ले जाते पकड़ गया है। वह करीब दस लाख रुपए कीमत की है और कुछ माह पहले ही खरीदी गई है। उसने अभी तक यह नहीं बताया कि वह डोडाचूरा कहां से लाया था और कहां ले जा रहा था। उसे न्यायालय में पेश किया गया है। न्यायालय से पुलिस रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ की जाएगी।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply