पीड़ित परिवार ने आरोप लगाया है कि सुशील मारपीट के दौरान घटनास्थल पर मौजूद थे. यह घटना मंगलवार और बुधवार की दरमियानी रात को छत्रसाल स्टेडियम में घटी. घटना में कई पहलवानों द्वारा बेरहमी से पीटने के कारण 23 साल के एक पहलवान की मौत हो गई.

Advertisement

छत्रसाल स्टेडियम (Chhatrasal stadium ) में हुए झगड़े और पीट-पीट कर हत्या के मामले में दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार (Lookout notice against Wrestler Sushil Kumar) के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने सोमवार को लुक आउट नोटिस जारी कर दिया है. इस मामले में सुशील कुमार के अलावा 20 अन्य आरोपियों को भी तलाश किया जा रहा है. छत्रसाल स्टेडियम में पहलवानों के दो ग्रुप्स में मारपीट हो गई थी जिसमें 23 साल के सागर राणा की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी.

बेटी की लाश को कंधे में 25 KM पोस्टमार्टम कराने ले गया पिता और ऐसे ही वापस लौटा,उपलब्ध नही हुआ शव वाहन

पुलिस ने कहा कि यह झड़प मॉडल टाउन इलाके में एक फ्लैट को खाली कराने को लेकर हुई थी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बीजिंग ओलंपिक में कांस्य और लंदन ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले सुशील कुमार भी इस हत्या के मामले में नामजद हैं. दिल्ली एनसीआर क्षेत्र के अलावा पड़ोसी राज्यों में उनकी तलाश में छापे मारे जा रहे हैं.

 

उन्होंने बताया कि पीड़ितों ने आरोप लगाया है कि सुशील घटना के समय घटनास्थल पर मौजूद थे. यह घटना मंगलवार और बुधवार की दरमियानी रात को छत्रसाल स्टेडियम में घटी, जिसमें कथित रूप से अन्य पहलवानों द्वारा बेरहमी से पीटने के कारण 23 साल के एक पहलवान की मौत हो गई. जबकि उसके दो साथी घायल हो गए. पुलिस के अनुसार सुशील, अजय, प्रिंस, सोनू, सागर, अमित और अन्य के बीच पार्किंग क्षेत्र में झगड़ा हुआ. इसके बाद, पुलिस ने मॉडल टाउन पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और शस्त्र अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.

इंदौर ज़ोन में 2 हजार से ज्यादा गिरफ्तार, पुलिस ने मैदान में ले जाकर दी अनोखी सजा

सीसीटीवी के आधार पर कार्रवाई

मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज कब्जे में ले लिए हैं. फुटेज के आधार पर कई लोगों की पहचान भी की गई है. इसी के साथ पीड़ितों के बयान और पूछताछ में भी कई लोगों की मौजूदगी का पता चला है. अबतक हुई जांच के बाद पुलिस पहलवान सुशील समेत 20 लोगों की तलाश में जुटी है.

लोकेशन निकालने में जुटी पुलिस

जांच में जिन लोगों के नाम सामने आए हैं, पुलिस उनकी लोकेशन निकालने में जुटी है. घटना के समय कौन कहां था? इसी के साथ सभी लोगों की कॉल डिटेल भी निकलवाई जा रही है. सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस कई जगह छापेमारी कर रही है.

(इनपुट: भाषा)

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply