Thursday, June 13, 2024
Share this News
Home लॉकडाउन में दुनिया के लिए कमाल कर सकता है स्पेन का ये...
Array

लॉकडाउन में दुनिया के लिए कमाल कर सकता है स्पेन का ये अनोखा ‘एग्जिट प्लान’..

Share this News
लॉकडाउन में दुनिया के लिए राहत बन सकता है स्पेन का अनोखा 'एग्जिट प्लान'

40 दिन के सन्नाटे और खामोशी के बाद सोमवार सुबह-सुबह अचानक पूरे देश में सोशल डिस्टेंसिंग झूमती और गोले में खड़ा लॉकडाउन नशे में मदहोश नजर आ रहा था. तलब ने लॉकडाउन का सबब ही बेकार कर दिया. प्यास ने दो गज की दूरी की आस ही खत्म कर दी. गोले गुम हो रहे थे, गलियां गुलजार और सड़क आबाद. 40 दिन बाद अचानक इतने सारे इंसान एक साथ खड़े देखने को मिल रहे थे. 40 दिन बाद दुकान जो खुल रही थी. तो क्या लॉकडाउन के बाद की तस्वीर ऐसी ही होने वाली है? या हम स्पेन से कुछ सीखेंगे?

40 दिन काट लिए देशबंदी में लोगों ने. प्यार से, डांट से तो कुछ जगह मार से. पर घर में ही रहे. मजबूरी में ही सही पर सोशल डिस्टेंसिंग का पूरे धर्म-ईमान से पालन किया. इक्का-दुक्का मामलों को छोड़ दें तो इन 40 दिनों में जीने के लिए जरूरी सामान या खाने की दुकान पर भी लंबी-लंबी कतारें नहीं दिखीं. पर 40 दिन बाद एक नशे ने सब कुछ हिरण कर दिया. जरा सोचिए ये तो दुकान खुलने से पहले का मंजर है. बोतल हाथ में आने के बाद का आलम क्या होगा. एक बार गले के नीचे उतर गया तो फिर कौन कोरोना, काहे का कोरोना.

मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा- दुनिया कोरोना से लड़ रही है और कुछ लोग आतंकवाद जैसा वायरस फैला रहे

40 दिनों से सन्नाटे में डूबी और अलसाई सुबह सोमवार पहली बार नशे के सुरूर के साथ जागी. शटर अभी बंद ही था. पर भाई लोगों ने अपनी-अपनी जगह ले ली. गोले कम पड़ गए. गलियां छोटी पड़ने लगीं. लाइनें लंबी होती गईं. सारे प्यासे इकट्ठे हो चुके थे. सवाल प्यास का जो था. अब अचानक शहर-शहर मोहल्ले-मोहल्ले से एक जैसी ही तस्वीर आनी शुरू हो गई. दुकान खुलने से पहले ही शराब ने ऐसा सुरूर दिखाया कि एक झटके में खुद लॉकडाउन ही नशे में डाउन हो गया. सोशल डिस्टेंसिंग तो मानो झूमने ही लगा. इनकी भीड़ देख लगा कि भूख पर प्यास पर हावी है.

दिल्ली में शराब ठेके पर उमड़ी भीड़ को देखकर भड़के गौतम गंभीर..

है ना कमाल. जहां लॉकडाउन में बंद दुनिया के कुछ देश लॉकडाउन से निकलने की प्लानिंग कर रहे हैं. वहीं अपने यहां नशे ने एक झटके में सोशल डिस्टेंसिंग से डिस्टेंसिंग को निकाल फेंक कर सब कुछ सोशल कर दिया. तो क्या लॉकडाउन खत्म न होने के बाद की तस्वीरें ऐसी ही होंगी? ये तो शुरुआती रुझान हैं. पर इन तस्वीरों का अंजाम अगर आप जानना चाहते हैं, इसकी गंभीरता को समझना चाहते हैं, तो फिर स्पेन चलिए. क्योंकि स्पेन ही इस सवाल का जवाब देगा कि लॉकडाउन कब, कैसे और किन हालात में खत्म होगा या हो सकता है.

एम्स से 12 और चिरायु अस्पताल से 18 कोरोना संक्रमित ठीक होकर डिस्चार्ज हुए

स्पेन इसलिए इस सवाल का जवाब देगा क्योंकि बंद दुनिया में वो इकलौता ऐसा देश है, जिसने लॉकडाउन को खत्म करने की एक ऐसी प्लानिंग बनाई है, जिसे आनेवाले वक्त में भारत समेत शायद दुनिया के तमाम देश अपनाने को मजबूर हो जाएं. यूरोपियन देशों में जहां कोरोना ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई. हम उनसे कोरोना के संक्रमण के मामले में दो से तीन हफ्ते पीछे चल रहे हैं. हम उन्हें देख रहे हैं कि उनसे क्या गलती हुई. जो हमें नहीं करनी चाहिए.

हम उन्हें देख रहे हैं कि उन्होंने कोरोना से बचने के लिए क्या अच्छे तरीके अपनाए जो हमें भी अपनाने चाहिए. और अब हमें ये भी देखना होगा कि वो इस लॉकडाउन से बाहर निकलने की क्या रणनीति अपना रहे हैं. जो हम भी अपना सकते हैं. यूं तो दुनिया में लॉकडाउन खोलने वाला सबसे पहला देश चीन है. जहां से ये कोरोना वायरस निकला. मगर लॉकडाउन खोलने की जल्दी में उसने गलती कर दी. वहां कोरोना ने बैक फायर कर दिया. अब फिर से चीन में कोरोना के मामले सामने आने लगे हैं.

लॉकडाउन में ही Ola ने दोबारा सेवा शुरू करने के लिए लांच की नई योजना..

जाहिर है इस लॉकडाउन से अचानक बाहर निकल आना फिलहाल अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारने जैसा होगा. तो सवाल ये कि फिर कोई देश करे क्या. लॉकडाउन के इस झंझट से छुटकारा कैसे पाए. जिसने अर्थव्यवस्था के कदमों को बेड़ियां डालकर रोक रखा है. पूरी दुनिया फिलहाल इस सवाल का जवाब ढूंढने के लिए स्पेन की तरफ देख रही है. क्योंकि उसने लॉकडाउन से बाहर निकलने का फुल-प्रूफ प्लान बनाया है. एक ऐसा प्लान जिससे वायरस भी मर जाएगा और अर्थव्यवस्था भी नहीं टूटेगी.

क्या है स्पेन का इस लॉकडाउन से एग्ज़िट का प्लान

स्पेन ने लॉकडाउन से एग्जिट का जो प्लान तैयार किया है. वो बड़ी प्लानिंग के साथ है. इसे चार अलग-अलग चरणों में बांटा गया है. इन चारों चरणों में एक-एक करके लोगों की कैद और अर्थव्यवस्था को जकड़े हुई कोरोना वायरस की बेड़ियों को तोड़ा जाएगा. किस फेज में क्या खुलेगा. आम लोगों को कितनी आजादी दी जाएगी. इसके लिए क्या नियम और कानून होंगे. इसका खाका बड़े एहतियात के साथ खींचा गया है.

इस्तीफा देकर निकली आईएएस रानी नागर, घरौंडा में गाड़ी खराब हुई, विभाग से नहीं बल्कि फेसबुक से मदद मिली

अमेरिका के बाद स्पेन दुनिया का ऐसा दूसरा देश है. जहां कोरोना ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई है. यहां 2.5 लाख से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव के मामले हैं और अब तक 25 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. महज 4 करोड़ 70 लाख की आबादी वाले इस देश के लिए कोरोना के ये आंकड़े यकीनन चिंता की बात हैं. बावजूद इसके स्पेन इस लॉकडाउन के जंजाल से बाहर निकलना चाहता है. मुमकिन है कि स्पेन बेचैनी में जल्दबाजी कर रहा हो. मगर जानकार मान रहे हैं कि लॉकडाउन से निकलने का उसका प्लान फुल-प्रूफ है.

दुनिया में स्पेन ही इकलौता ऐसा देश है, जहां कोरोना का वायरस बहुत तेजी से और खतरनाक तरीके से फैला. 1 मार्च को यहां सिर्फ 85 मामले थे. 1 अप्रैल आते-आते ये मामले 1 लाख 4 हजार पहुंच गए. 1 मई तक ये मामले 2 लाख से भी ऊपर निकल चुके थे.

Army Rally Bharti 2020 : 8वीं पास युवाओं के लिए भारतीय सेना में नौकरी का अवसर, ऑनलाइन करें आवेदन

बावजूद इसके पिछले 28 अप्रैल को स्पेन के प्रधानमंत्री पेद्रो सैनशेज देश के सामने आए. उन्होंने लॉकडाउन खोलने का ऐलान कर दिया. प्रधानमंत्री पेद्रो ने कहा कि जून के आखिर तक देश में लॉकडाउन पूरी तरह से खोल दिया जाएगा. मगर ये काम चरण दर चरण होगा. देश में इसकी शुरुआत 4 मई से कर दी गई है. देश लॉकडाउन हटने के बाद यानी जून के बाद एक न्यू नॉर्मल की तरफ आगे बढ़ेगा. ये न्यू नॉर्मल क्या है. न्यू नॉर्मल यानी नए तरह के सामान्य हालात की तरफ लौट जाएगा. आसान ज़ुबान में कहें तो जो पहले हमारी नॉर्मल लाइफ थी. वो अब नहीं रह जाएगी. उसमें अब कई तरह के बदलाव आएंगे. जिसे हमें कुबूल करना पड़ेगा.

चार चरणों में खुलेगा स्पेना का लॉकडाउन!अब आतें हैं लॉकडाउन की तरफ. अचानक देश में बढ़े कोरोना के कहर को देखते हुए. 14 मार्च को स्पेन ने लॉकडाउन का ऐलान किया. यानी वहां लॉकडाउन को 50 दिन से भी ऊपर हो चुके हैं. और अब ये ऐलान किया गया है कि 4 मई से लॉकडाउन को धीरे-धीरे खोला जा रहा है. ये 4 अलग-अलग चरणों में होगा. फेज जीरो से फेज थ्री तक.

शराब नहीं बिकने से हो रहा था 700 करोड़ रुपए का नुकसान

तारीख फेज अवधि

04 मई 0 1 हफ्ते

11 मई 1 2 हफ्ते

25 मई 2 2 हफ्ते

08 जून 3 ? हफ्ते (हालात के हिसाब से तय किया जाएगा)

माना जा रहा है कि आखिरी फेज 1 हफ्ते का हो सकता है. यानी कुल मिलाकर लॉकडाउन से निकलने का स्पेन का ये चार फेज का एग्जिट प्लान कम से कम 6 हफ्ते या कहें डेढ़ महीने का होने वाला है. स्पेन का टारगेट है कि जून के आखिरी हफ्ते तक वो इस लॉकडाउन को पूरी तरह से खत्म कर देगा और लोगों की जिंदगियां पहले की तरह हो जाएगी. हां मगर कुछ नियम और शर्तों के साथ और अगर ऐसा हो जाता है, तो ये यकीनन एक बहुत बड़ी कामयाबी होगी.

लॉकडाउन में ही Ola ने दोबारा सेवा शुरू करने के लिए लांच की नई योजना..

क्योंकि अगर 8 हफ्तों में महीनों की कैद से आजादी मिल जाती है तो ये स्पेन की बड़ी जीत मानी जाएगी. तो स्पेन का लॉकडाउन से ये एग्जिट प्लान कामयाब होता है या नहीं. इस एग्जिट प्लान की हर स्टेज को यहां कैसे लागू किया जाता है. ये देखना ना सिर्फ हमारे लिए बल्कि पूरी दुनिया के लिए अहम है.

RELATED ARTICLES

Blake Griffin Posterizes Aron Baynes Twice in Race

We woke reasonably late following the feast and free flowing wine the night before. After gathering ourselves and our packs, we...

आदिवासी बहुल सीटों पर गिरा वोट प्रतिशत,इन सीटों पर भाजपा और कांग्रेस के  नेताओं ने ताकत झोंक दी थी।

मध्य प्रदेश के इन सीटों पर दिग्गज नेताओं की कड़ी मेहनत के बाद गिरा वोट प्रतिशत {Vote percentage dropped} पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में...

ममता बनर्जी ने भाजपा को 200 वोट पार करने का दिया चैलेंज

बंगाल: सीएम ने कहा भाजपा 400 पार का नारा दे रही है, पहले 200 साटों का आंकड़ा पार करके दिखाए, बंगाल में फिर हारेगी...

Most Popular

Blake Griffin Posterizes Aron Baynes Twice in Race

We woke reasonably late following the feast and free flowing wine the night before. After gathering ourselves and our packs, we...

आदिवासी बहुल सीटों पर गिरा वोट प्रतिशत,इन सीटों पर भाजपा और कांग्रेस के  नेताओं ने ताकत झोंक दी थी।

मध्य प्रदेश के इन सीटों पर दिग्गज नेताओं की कड़ी मेहनत के बाद गिरा वोट प्रतिशत {Vote percentage dropped} पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में...

ममता बनर्जी ने भाजपा को 200 वोट पार करने का दिया चैलेंज

बंगाल: सीएम ने कहा भाजपा 400 पार का नारा दे रही है, पहले 200 साटों का आंकड़ा पार करके दिखाए, बंगाल में फिर हारेगी...

भोपाल: पूर्व सीएम से जीतू पटवारी पर किया कटाक्ष, कांग्रेस पर आरोप

पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को जादूगर बताया, कांग्रेस पर भी लगाए कई आरोप पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार...

Recent Comments