जम्मू-कश्मीर में 60 वर्षीय एक व्यक्ति ने अपनी मौत का नाटक रचा ताकि वह और उसके दोस्त यहां से एंबुलेंस से पुंछ जिले स्थित अपने घरों तक पहुंच सकें। हालांकि, वे इसमें कामयाब नहीं हो सके, क्योंकि रास्ते में जांच के दौरान पुलिस की टीम ने जब तापमान की जांच की तो उसके जीवित होने का भेद खुल गया और सभी पकड़े गए।

Advertisement

Capture

यह कहानी है हकम दीन नामक एक व्यक्ति की, जिसे 27 मार्च को एक लड़ाई के दौरान सिर में चोट लगने के बाद यहां सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। दीन को 30 मार्च को छुट्टी दे दी गई थी, लेकिन उसने एंबुलेंस से अपने घर पहुंचने के लिए अपनी मौत का नाटक रचा और इसके लिए एक मृत्यु प्रमाण पत्र भी हासिल कर लिया।

दुनियाभर में 9 लाख से ज्यादा लोग हुए संक्रमित, मौत का आंकड़ा 45 हजार के पार

यहां एक पुलिस दल ने जांच के दौरान उन्हें पकड़ लिया। पुंछ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रमेश अंगराल ने कहा कि एम्बुलेंस चालक सहित सभी पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया और पुलिस की निगरानी में उन्हें एक पृथक इकाई में भेज दिया गया।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply