कोरोना की छोटी-बड़ी लहर के लिए तैयार है प्रदेश

मध्यप्रदेश में 31 मई के बाद लॉकडाउन से राहत मिलने लगेगी। शुरुआत उज्जैन से हो सकती है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके संकेत दिए हैं। बुधवार को उज्जैन पहुंचे मुख्यमंत्री ने क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में कहा कि 31 मई तक सख्त लॉकडाउन रहेगा। इसके बाद 1 जून से धीरे-धीरे जिलों को खोला जाएगा। ये फैसला सिर्फ उज्जैन संभाग के लिए ही है।

Advertisement

मुख्यमंत्री ने संकेत दिए कि कोरोना नियंत्रण में रहा तो जून में शहर खोलना शुरू किए जाएंगे। सीमित संख्या में विवाह समारोह की अनुमति दी जाएगी। तीसरी लहर की तैयारी करनी है। यह लहर छोटी आए या फिर बड़ी? अभी से तैयारी कर लें। इस दौरान CM ने मीडिया से दूरी बनाकर रखी।

कांग्रेस नेता ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को कोरियर किया गौमूत्र, पूछा- ‘क्या इससे होगा इलाज’?

31 मई तक 11 दिन कोरोना कर्फ्यू को सख्ती से लागू किया जाए
मुख्यमंत्री ने उज्जैन संभाग के जिला, विकासखंड और ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में कहा कि ओवर काॅन्फिडेंस में नहीं रहना है। कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। कोरोना मुक्त गांव, कोरोना मुक्त वार्ड, कोरोना मुक्त शहर बनाना है। 31 मई तक 11 दिन कोरोना कर्फ्यू को सख्ती से लागू किया जाए।

कोरोना से अनाथ बच्चों को 21 साल तक मिलेगी 5 हजार पेंशन, इन पीड़ितों को नहीं मिलेगा लाभ

CM ने यह भी कहा कि प्रदेश में रिकवरी रेट बढ़ रहा है। संक्रमितों के आंकड़े में भी लगातार कमी आई है। CM ने कलेक्टर को कोरोना के दौरान अनाथ हुए बच्चों और बेसहारा हुए परिवार की सूची जल्द बनाने के निर्देश भी दिए।

नही रहे शिवराज सिंह मध्य प्रदेश में पसरा मातम..!

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply