हरिद्वार में एक अप्रैल से महाकुंभ लगने जा रहा है. कुंभ की तैयारियों को लेकर सीएम तीरथ सिंह रावत आज बैठक करेंगे. मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने इसकी जानकारी दी है. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि मेले की अवधि में किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया है.

Advertisement

शिवरात्रि के दिन ताजमहल में पूजा करने पर हिंदू महासभा के लोगों को किया गिरफ्तार

1 अप्रैल से लागू होगी अधिसूचना
मुख्य सचिव ने शुक्रवार को बताया कि कुंभ की अधिसूचना एक अप्रैल से ही लागू होगी. जल्द ही इसकी अधिसूचना जारी कर दी जाएगी. उन्होंने बताया कि मेला एक अप्रैल से 30 अप्रैल तक कराये जाने पर विचार चल रहा है.

स्त्री हो या फिर पुरुष कभी नहीं करना चाहिए ये 5 काम, मां लक्ष्मी कर देगी आपका त्याग

लानी होगी कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट
सरकार द्वारा कुंभ का नोटिफिकेशन जारी होते ही हरिद्वार कुंभ क्षेत्र में सभी नियम लागू हो जाएंगे. कोरोना के लिए जारी की गई केंद्र और राज्य सरकार की एसओपी का पालन करना सभी को अनिवार्य होगा. बता दें कि हरिद्वार आने वाले हर श्रद्धालु और संतों को भी कोविड-19 की नेगेटिव रिपोर्ट लानी अनिवार्य होगी. इसके साथ ही सरकारी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन भी कराना होगा. हालांकि संतों ने केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी की गई कोरोना एसओपी को लेकर विरोध जताया है.

 

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply