ईवीएम का इस्‍तेमाल
ईवीएम का इस्‍तेमाल

 आप जानते हैं कि राष्ट्रपति पद के लिए वोटिंग कैसे होती है और क्या इसमें ईवीएम यानी इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (Electronic Voting Machines, EVM) का इस्तेमाल किया जाता है? इस सवाल का जवाब आपको यहां मिलेगा।
Advertisement

 देश में 18 जुलाई को राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने वाले हैं, जिसके नतीजे 21 जुलाई को आएंगे। इसकी अधिसूचना 15 जून को जारी की जाएगी और नामांकन की आखिरी तारीख 29 जून तय की गई है। नामांकन पत्रों की जांच 30 जून तक होगी और उम्मीदवार 2 जुलाई तक अपना नामांकन वापस ले सकते हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि राष्ट्रपति पद के लिए वोटिंग कैसे होती है और क्या इसमें ईवीएम यानी इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (Electronic Voting Machines, EVM) का इस्तेमाल किया जाता है? इस सवाल का जवाब है कि राष्ट्रपति चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल नहीं होता है और इसकी वजह हम आपको बताएंगे।

क्या है ईवीएम के इस्तेमाल ना होने की वजह..

राष्‍ट्रपति चुनाव बाकी के चुनावों से बिल्कुल अलग होता है। इस चुनाव में एकल वोट वैल्‍यू के माध्यम से वोटों की कैलकुलेशन होती है, जोकि आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली के मु‍ताबिक की जाती है। अधिकारी बताते हैं कि ईवीएम को जिस तरह से डेवलप किया गया है, वह इस आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली पर काम नहीं करती है। अगर राष्ट्रपति चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल करना है तो एक अलग तरह की ईवीएम बनानी पड़ेगी। इसलिए इस चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल नहीं करते हैं।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply