यह इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला मध्यप्रदेश के इंदौर जिले का है जहां झूठे सम्मान के लिए सालों ने अपने ही जीजा की बीच चौराहे में ले जाकर हत्या कर दी पहले अपने जीजा को घर बुलाया और वहां पर जीजा का स्वागत सत्कार किया फिर बहला-फुसलाकर अपने साथ मोती तबेला चौराहा तक ले जाकर जीजा की चाकू से गोदकर हत्या कर दी सूचना पर पुलिस ने घायल को अस्पताल पहुंचाया लेकिन डॉक्टर ने देखते ही मृत घोषित कर दिया।

Advertisement

राजधानी में महिला की हत्या नेशनल हाइवे के पास मिली लाश

आपको बता दें मिर्जाबाग कॉलोनी (देवास) में रहने वाला समीर आरोपी साले की दुकान पर काम करता था। इसी दौरान उसको आरोपी की बहन से प्रेम हो गया समीर ने दो महीने पूर्व आरोपी की बहन अलमास से प्रेम विवाह कर लिया था। आरोपी के रिश्तेदार इस बात को लेकर ताने देते थे। आरोपी को लगता था पूरे मोहल्ले में इज्जत खराब हो गई।

उन्नाव:दलित लड़कियों की मौत पर बड़ा खुलासा प्रेम संबंध के लिए किया इंकार तो कीटनाशक पिलाया

अलमास के पिता नईम की तबीयत खराब चल रही थी, इसलिए दोनों पति-पत्नी रविवार को उनसे मिलने देवास से इंदौर के मोती तबेला आए थे। समीर ने ससुराल में चाय पी और कुछ देर चर्चा करता रहा। थोड़ी देर बाद बदला लेने के लिए अब्दुल उसे चिकन की दुकान दिखाने का बहाना बनाकर चौराहे पर ले गया। यहां पहले से उसका भाई अयाज मौजूद था। उसने आते ही अपने जीजा को चाकू मारना शुरू कर दिए। आरोपी ने करीब 13 से अधिक बार चाकू के वार किए और फरार हो गया। सूचना पर पुलिस ने घायल को अस्पताल पहुंचाया, लेकिन डॉक्टर ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। आरोपी की मोती तबेला में चिकन की दुकान है।

सिर्फ वोट और नोट के लिए गांधी जी का इस्तेमाल करती है कांग्रेस : नरोत्तम मिश्रा

रावजी बाजार थाना टीआई सविता चौधरी के मुताबिक घटना शाम करीब 6 बजे मोती तबेला स्थित रॉयल कैफे के सामने की है मरने वाले के दो साले थे लेकिन बताया जाता है कि हत्या एक ने की है। पुलिस ने फिलहांल दोनों को हिरासत में लिया है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply