भोपाल: शुक्रवार को कमल नाथ सरकार बहुमत साबित करने के लिए विधानसभा में फ्लोर टेस्ट देगी। इसके लिए दो बजे सदन की बैठक बुलाई गई है। इसमें सदन के नेता मुख्यमंत्री कमल नाथ सदन में विश्वास मत का प्रस्ताव रखेंगे। इस पर विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति मतदान कराएंगे। प्रक्रिया के पहले मुख्यमंत्री और प्रतिपक्ष के सदस्य अपने विचार रख सकते हैं।

निर्भया केस: परिजन शव नहीं लेंगे तो जेल प्रशासन करेगा अंतिम संस्कार..

विश्वास मत प्रस्ताव के पक्ष और फिर विपक्ष में हाथ उठाकर मत लिया जाएगा। इसके आधार पर तय होगा कि कमल नाथ सरकार बहुमत में है या अल्पमत में। विधायकों को बैठक की सूचना देने के लिए कलेक्टर, ई-मेल और एसएमएस के माध्यम से पहुंचाई गई है।

निर्भया: रात भर सोए नहीं चारों दोषी, फांसी के पहले नहीं बताई आखिरी इच्छा

विधानसभा सचिवालय के प्रमुख सचिव एपी सिंह ने बताया कि विश्वास मत को लेकर तैयारियां कर ली गई हैं। मतदान में दोनों पक्ष के मतों को एक-एक कर गिना जाएगा। रजिस्टर में नामवार पक्ष और विपक्ष में मिलने वाले मत को दर्ज किया जाएगा। मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद गणना करके परिणाम सुनाया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के मुताबिक इस पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जाएगी।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply