भोपाल के रोशनपुरा स्थित जवाहर भवन, जिसमें कांग्रेस का जिला कार्यालय है। शेष हिस्से में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स।
भोपाल के रोशनपुरा स्थित जवाहर भवन, जिसमें कांग्रेस का जिला कार्यालय है। शेष हिस्से में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स।

बीजेपी विधायक एवं पूर्व प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर गंभीर आरोप लगाए हैं। शर्मा ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि भोपाल का रोशनपुरा स्थित जवाहर भवन (कांग्रेस का जिला कार्यालय) को कमलनाथ ने बेच दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह भवन पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के चहेते बहुत बड़े ग्रुप को बेचा गया है।

Advertisement

कोरोना पर बयान देना पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को पड़ा भारी, धारा-188 के तहत FIR दर्ज

बीजेपी विधायक एवं पूर्व प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर गंभीर आरोप लगाए हैं। शर्मा ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि भोपाल का रोशनपुरा स्थित जवाहर भवन (कांग्रेस का जिला कार्यालय) को कमलनाथ ने बेच दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह भवन पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के चहेते बहुत बड़े ग्रुप को बेचा गया है।

कांग्रेस के प्रदेश मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने विधायक शर्मा के आरोपों का खंडन किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा- बीजेपी को मानसिक चिकित्सालय जल्द से जल्द खुलवाना चाहिए। इन (रामेश्वर शर्मा) जैसे नेताओं को उसमें भर्ती कर जांच व इलाज कराए। उन्होंने आगे लिखा- दिन भर झूठ बोलना, उल जलूल बोलना, बिना सिर पैर की बात करना इनकी आदत बन चुका है। सलूजा के मुताबिक जवाहर भवन को लेकर शर्मा का आरोप पूरी तरह झूठा है।

भोपाल के इन 18 रूटों पर 2 साल बाद चलेगी 700 नई सिटी बसें 5 बस स्टैंड और डिपो भी बनेंगे

बता दें कि बीजेपी विधायक का बयान तब आया जब केंद्र सरकार की नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइप लाइन राष्ट्रीय मौद्रिकरण योजना (एनएमपी) के तहत देश की संपत्तियों के मौद्रिकरण (निश्चित समय पर किराए पर देना) की घोषणा के बाद कांग्रेस, मोदी सरकार और बीजेपी पर हमलावर है। सरकार के इस मॉनेटाइजेशन प्लान को लेकर मंगलवार को कांग्रेसी नेता राहुल गांधी ने सरकार पर निशाना साधा था। उन्‍होंने केंद्र सरकार पर देश की सभी संपत्तियों को बेचने का आरोप लगाया और कहा कि एनएमपी से नौकरियां खत्‍म होंगी और चंद उद्योगपतियों को फायदा होगा।

ट्रस्ट संचालित करता है जवाहर भवन
कांग्रेस से मिली जानकारी के मुताबिक रोशनपुरा चौराहे पर स्थित जवाहर भवन का संचालन करने के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने एक ट्रस्ट बनाया है। बता दें कि मप्र के गठन के समय भोपाल में कांग्रेस का कार्यालय सैफिया कॉलेज में था। यहां से 1974 में मोती मस्जिद में आ गया। इस जगह के एवज में कांग्रेस को सरकार ने रोशनपुरा चौराहे पर जगह आवंटित की 1977 में जगह का आवंटन निरस्त कर दिया गया था। उस दौरान कांग्रेस के जेल भरो आंदोलन की वजह से जगह वापस कर दी गई थी। तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के कार्यकाल में जवाहर भवन का निर्माण हुआ था।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply