अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग तैराक सत्येंद्र लोहिया ने बढ़ाया मप्र का मान ,फिर बनाया नया रिकॉर्ड

    0
    1
    अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग तैराक सत्येंद्र लोहिया
    Share this News
     36 किमी का सफर 10 घंटे 3 मिनट में तैरकर रिकॉर्ड स्थापित किया मुख्यमंत्री शिवराज ने दी बधाई
    प्रदेश के भिंड जिले के माटी के लाल ने फिर से देश में मध्यप्रदेश का मान बढ़ा दिया है।अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग तैराक सत्येंद्र सिंह लोहिया ने अरब सागर के 36 किलोमीटर लम्बे अरब सागर के दुर्गम चैनल को पार कर एक रिकॉर्ड बनाया है। सत्येंद्र ने समुद्र में धरमतर जेट्टी से गेटवे ऑफ इंडिया मुंबई तक 36 किमी का सफर 10 घंटे 3 मिनट में तैरकर रिकॉर्ड अपने नाम किया है। सत्येंद्र सिंह के इस नए रिकॉर्ड के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बधाई देते हुए ख़ुशी जाहिर की है
    सीएम ने किया ट्वीट
    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बधाई देते हुए ट्वीट किया – भिंड के प्रतिभावान अंतरराष्ट्रीय पैरातैराक सतेंद्र सिंह लोहिया ने भारत में समुद्र की सबसे चुनौतीपूर्ण चैनल धरमतर जेट्टी से गेटवे ऑफ इंडिया मुंबई तक 36 किमी 10 घंटे 3 मिनट में तैरकर रिकॉर्ड स्थापित किया। हम सभी गौरवान्वित हैं। आपको शुभकामनाएं, ह्रदय से अभिनंदन।
    मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर बधाई दी
    मुख्यमंत्री ने अगले ट्वीट में लिखा – लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। कवि श्री सोहनलाल द्विवेदी की पंक्तियां सतेंद्र के साहस और संकल्प से जीवंत हो उठी हैं। परिश्रम की पराकाष्ठा, लगन व समर्पण से आपने देश के युवाओं को प्रेरित किया है। ये सफलता युवाओं का मार्गदर्शन करती रहेगी।
    पहले भी रच चुके है इतिहास
    अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग तैराक सत्येंद्र सिंह लोहिया ने अमेरिका में 42 किलोमीटर लंबे कैटलीना चैनल को पार कर नया इतिहास रच दिया। ऐसा करने वाले वे एशिया के पहले दिव्यांग तैराक हैं। सत्येंद्र की टीम में पांच अन्य खिलाड़ी थे। टीम ने कैटालिना चैनल को 11 घंटे 33 मिनट के समय में पार किया है। इसके पहले वह 2017 में इंग्लिश चैनल पार कर चुके हैं। तब भी ऐसा करने वाले वह देश के पहले पैरा स्विमर बने थे।
    सत्येंद्र ने तैराकी की तकनीक ग्वालियर में सीखी और फिर इसे अपना हुनर बना लिया। इससे पहले सत्येंद्र ने पहले नेशनल तैराकी में बाजी मारी थी। उन्हें मध्यप्रदेश के विक्रम अवार्ड से भी नवाजा जा चुका है।