कोरोना की दूसरी लहर में काम करने पर भी इंटर्न डॉ को नही मिला कोई इंसेंटिव

Advertisement
हड़ताल पर बैठे इंटर्न डॉ

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में अखिल भारतीय आयुर्वेदिक संस्थान प्रबंधन के खिलाफ ट्रेनिंग ले रहे डॉक्टरों ने मोर्चा खोल दिया है एम्स में इंटर्नशिप कर रहे डॉक्टरों के अनुसार कोरोना काल की दूसरी लहर के दौरान भी लगातार काम करने के बावजूद कोई इंसेंटिव नहीं मिला है जिस कारण से एम्स अस्पताल पर इंटर कर रहे डॉक्टरों को हड़ताल का सहारा लेना पड़ा.

नगर निगम कि अब तक की सबसे बड़ी कारवाई राजबाड़ा इलाके की 50 दुकानें सील

जानकारों की माने तो इंटर कर रहे डॉक्टरों की हड़ताल से एम्स की स्वास्थ्य सेवाओं पर काफी हद तक असर पड़ सकता है वही ऐम्स के डायरेक्टर की बिल्डिंग के सामने बड़ी संख्या में हड़ताल पर बैठे इंटर डॉक्टर ने मांग पूरी नहीं होने तक हड़ताल जारी रखने की चेतावनी दी है

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

 

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply