आम आदमी अपनी सुरक्षा के लिए पुलिस पर यूं तो आंख बंद करके भरोसा करता है. लेकिन मध्य प्रदेश के रीवा से सामने आई इस खबर ने वहां की पुलिस पर सवाल खड़े कर दिए हैं. रीवा में पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है. पुलिस ने यहां सब्जी बेचने जा रहे किसान की टोकरी को लात मारकर गिरा दिया और इसके बाद उसकी मोटर साइकिल की हवा भी निकाल दी.

Advertisement

MP में 11,708 नए केस, 84 मौतें: 20 दिन बाद 11 हजार से कम पॉजिटिव मिले; 4,815 मरीज हुए ठीक

जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने किसानों के खेतों में जाकर कार्यवाई की. उनकी सब्जियां लूट लीं और किसानों को मारा भी. इतना ही नहीं एक किसान की सब्जी की टोकरी लात मारकर गिरा दी और उसकी मोटर साइकिल की हवा निकाल दी. हैरानी की बात यह है कि यह पूरी घटना पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में हुई है.

तेज धमाके के साथ बैट्री बनाने वाली फैक्ट्री में लगी भीषण आग

वीडियो में आप देख सकते हैं कि एक आरक्षक सब्जी बेचने आ रहे किसान की सब्जी की टोकरी को लात मारकर गिरा देता है, जबकि दूसरा आरक्षक उसकी बाइक के अगले पहिए की हवा निकाल रहा है. वहीं कार में सवार एसपी राकेश सिंह और उनकी पीछे लगी गाड़ियां चोरहटा पुलिस के जिम्मेदार आरक्षकों की पूरी करतूत देख रही हैं. इस घटना के दौरान आला अधिकारियों ने आरक्षकों को किसानों के साथ इस तरह का बर्ताव करने पर रोका तक नहीं.

देखें केसे टेकऑफ करते ही विमान से अलग हुआ पहिया, मुंबई एयरपोर्ट पर कराई गई इमरजेंसी लैंडिंग

ये पूरा मामला रीवा के सेमरिया मार्ग में करहिया मंडी के पास का है. एसपी राकेश सिंह अपनी रूटीन अनुसार शहर की करहिया मंडी पहुंचे. जहां पुलिस को बताया गया कि कुछ किसान करहिया गांव के आसपास अपने घर और खेत से चोरी छिपे सब्जी बेच रहे हैं.

सहकारी समितियों के कर्मचारियों की कोरोना से मृत्यु पर स्वजन को अनुकंपा नियुक्ति

इसके बाद एसपी किसानों के खेत तक पहुंच गए. किसानों का आरोप है कि पुलिस ने उन्हें दौड़ा कर पीटा है. किसानों का कहना है कि सत्यम कुशवाहा और पुरुषोत्तम साहू अपनी बाइक में सब्जी रखकर करहिया मंडी बेचने आ रहे थे. तभी मंडी से पहले एसपी और चोरहटा पुलिस का वाहन सामने से आ गया. जैसे ही पुलिस की नजर सब्जी उगाने वाले अन्नदातों पर पड़ी, तो वे गाड़ी को सीधे रोककर सड़क पर आ गए. इसके बाद दो पुलिस वाले गाड़ी से उतरे. एक ने सब्जी की टोकरी पर लात मारी, जबकि दूसरे ने अगले पहिएं ही हवा निकाल दी.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply