मामला इंदौर के चिरायु अस्पताल का है, जो कि अब एक अखाड़ा बन गया, यहां भर्ती मरीज़ों के परिवार वालों ने कोरोना माहामरी में ड्यूटी कर रहे डॉक्टरों से मारपीट कर की, और उसके बाद दोनों पक्षों ( डॉक्टर और परिजनों के बीच ) मारपीट शुरू हो गई, न किसी ने महिला का लिहाज किया न बुजुर्ग का सब एक दूसरे को मारने-पीटने पर उतारू थे, पुलिस ने पहुंचकर मामला शांत कराया, मरीज के परिवार वालों ने ड्यूटी कर रहे डॉक्टर से मारपीट की। यह घटना रविवार देर रात की है. चन्दन नगर थाना इलाके के अस्पताल में मरीज के परिवार वालों के डॉक्टर्स के साथ मारपीट की जानकारी पुलिस को मिली, देखते ही देखते अस्पताल परिसर पुलिस और अटेंडेंट्स से भर गया,

Advertisement


कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार के नाम पर 25 हजार रूपये की ऑनलाइन ठगी, जानिए क्‍या है पूरा मामला ?

पुलिस ने इस पूरे मामले की जांच पड़ताल की, जिसमे पता चला कि,एक कोरोना पेशेंट को उनके परिवार वालों ने कोविड-19 के कारण चिरायु हॉस्पिटल में भर्ती कराया था.।परिवार वालों का कहना है वो पिछले 4 दिन से खुद और और अन्य परिवार वाले हॉस्पिटल में भर्ती मरीज के बारे में अपडेट जानकारी लेने जाते हैं तो हॉस्पिटल के डॉक्टर्स और स्टाफ उन्हें कोई संतोषजनक जानकारी नहीं दे रहे थे, परिवार वाले फिर अस्पताल पहुंचे और जानकारी मांगी तो डॉक्टरों ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया और परिजनों को धक्का देकर हॉस्पिटल से बाहर निकाल दिया।
परिजनों ने जब इसका विरोध किया तो डॉक्टर और हॉस्पिटल के कर्मचारियों ने मिलकर उनके साथ जमकर मारपीट की,इसमें उनके परिवार के तीन लोगों को चोट आयी। जबकि सीसीटीवी कैमरे में परिवार वाले ड्यूटी डॉक्टर्स के साथ मारपीट करते दिख रहे हैं

भारत की मदद के लिए अमेरिका ने बढ़ाया हाथ, कहां मुश्किल समय में की थी हमारी मदद

मरीज के परिवार के सदस्य का कहना है हॉस्पिटल वाले मरीज को कौन सी दवा और ऑक्सीजन लेवल आदि के बारे में पूछने पर कोई जवाब नहीं दे रहे हैं. इसकी शिकायत हॉस्पिटल में भर्ती मरीज के अन्य परिवार वालों ने मीडिया से की थी।


पिछले दिनों ऐसा ही मामला एमटीएएच हॉस्पिटल में भी मारपीट की, इन दिनों कोविड-19 पीड़ित मरीजों के परिवार वाले उत्तेजित हो रहे हैं. परिवार वालों की शिकायत रहती है कि डॉक्टर उन्हें जानकारी नहीं दे रहे. लेकिन अगर डॉक्टर एक एक मरीज़ के बारे में दिन भर परिवार वालों को जानकारी देते रहेंगे तो संकट के इस समय में वो मरीज़ों का इलाज कब और कैसे करेंगे. परिवार का आरोप है कि अस्पताल के डॉक्टर्स और स्टाफ ने गुंडागर्दी करते हुए बेसबॉल के डंडे से मारपीट की है. इस मामले में मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉक्टर्स के खिलाफ किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की है. इसको लेकर लोगों में क्रोध और आक्रोश व्याप्त है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply