इंदौर : नौकर संग मिल पत्नी ने टायर व्यापारी की गोली मारकर की हत्या

इंदौर : नौकर संग मिल पत्नी ने टायर व्यापारी की गोली मारकर की हत्या

Share this News

दो दिन से लापता टायर व्यापारी अशोक कुमार वर्मा का शव सोमवार को सिमरोल के जंगल में मिला। उनके सिर में गोली मारकर हत्या की गई। पुलिस ने हत्या के आरोपित पति-पत्नी राजकुमार और ब्रजेश निवासी जिला सागर को गिरफ्तार किया। आरोपित व्यापारी के यहां नौकरी करता है।

टायर व्यापारी की हत्या
टायर व्यापारी की हत्या

एसपी पूर्व आशुतोष बागरी ने बताया कि पंचवटी निवासी 47 वर्षीय टायर व्यापारी अशोक कुमार वर्मा 2 अक्टूबर को घर से निकले। उनकी देवास नाका पर दुकान है। वे प्रापर्टी ब्रोकर भी थे। रात को घर नहीं लौटने पर स्वजन ने कॉल किया, लेकिन मोबाइल बंद मिला। परिवार उनकी तलाश करता रहा।

इंदौर के सांसद का खंडवा में कटा चलान,चालान कटने के बाद कार से उतर कर बाइक से गए सांसद

3 अक्टूबर को गुमशुदगी दर्ज कराई। लसूड़िया थाना पुलिस को सीसीटीवी कैमरे की जांच में पता चला कि 2 अक्टूबर को देवास नाका के एक पेट्रोल पंप पर अशोक ने गाड़ी खड़ी की थी। यहां से वे पैदल निकले। कैमरे की जांच करते हुए पुलिस स्टार चौराहा पर पहुंची तो पता चला कि व्यापारी यहां अपने नौकर 30 वर्षीय राजकुमार चढ़ार व उसकी पत्नी 25 वर्षीय ब्रजेश से मिले। कुछ देर तक बात करने के बाद तीनों एक बाइक से सिमरोल की तरफ रवाना हुए।

मध्यप्रदेश में निजी स्कूलों का बड़ा फैसला कोरोना में पैरेंट्स गंवा चुके बच्चों से 2 साल तक लेंगे आधी फीस,

पुलिस ने इन फुटेज के आधार पर राजकुमार और ब्रजेश को हिरासत में लिया। आरोपितों ने 60 बार अशोक से बात की है। दोनों ने पूछताछ कुबूला कि उन्होंने अशोक की सिमरोल के जंगल में हत्या कर दी। उन्हें साथ लेकर पुलिस जंगल में पहुंची। यहां नाले के पास अशोक का शव छिपाकर रखा था। उनके सिर में गोली मारी गई थी। अशोक का शव जब बरामद हुआ तो उनके शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया।

पत्नी से दोस्ती का दबाव बना रहा था, इसलिए मार डाला

राजकुमार ने बताया कि वर्ष 2015 में व्यापारी का नया मकान देवास नाका पंचवटी कालोनी में बन रहा था। मकान की चौकीदारी करने के लिए वह परिवार के साथ आया था। कुछ दिन दुकान पर भी काम किया। इस दौरान अशोक की पहचान उसकी पत्नी से हुई। उनके बीच दोस्ती हो गई और संबंध बने। यह बात राजकुमार को पता चली तो चार महीने काम करने के बाद उसने नौकरी छोड़ दी और दोनों अपने घर सागर लौट गए।

नहीं रहे तारक मेहता के नट्टू काका, एक्टर घनश्याम नायक का हुआ निधन

दूसरे लाकडाउन के बाद से व्यापारी फोन पर राजकुमार और उसकी पत्नी से इंदौर आने के लिए संपर्क कर रहा था। दोनों को भी रुपयों की जरूरत थी तो इसलिए एक महीने पहले वे आ गए। इंदौर आने के बाद अशोक ने फिर ब्रजेश से दोस्ती के लिए दबाव बनाया।

राजकुमार ने बताया कि अशोक के पास एक वीडियो भी था, जिसे लेकर वह परेशान करता था। इसी बात से दोनों परेशान हो गए। 25 सितंबर को भी तीनों सिमरोल के जंगल में इसी जगह आए थे। रविवार को दोनों फिर बहाने से उन्हें यहां लाए और गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस जांच कर रही है कि आरोपितों के पास पिस्टल कहां से आई और आरोपितों की कहानी कितनी सही है।

भिंड:नेशनल हाईवे 719 पर बस और कंटेनर में भिड़ंत,हादसे में महिला सहित 8 लोगों की मौत

अमेरिका में एमबीए कर रहा बेटा

व्यापारी की दो बेटियां और एक बेटा है। बड़ी बेटी ईशा की शादी हो चुकी है। बेटा अमेरिका में एमबीए कर रहा है। छोटी बेटी निशा और मां घर पर ही रहती हैं। स्वजन ने बताया कि पहले वे लिंबोदी की बृजनयनी कालोनी में रहते थे। टायर की दुकान भी ट्रांसपोर्ट नगर में थी। छह साल पहले पंचवटी में रहने गए तो दुकान भी देवास नाका शिफ्ट कर ली।

https://youtu.be/812oSL7HZf8

news credit -@navduniya

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

CBSE 10th क्लास के सैंपल पेपर जारी,ऐसे करें डाउनलोड Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा।